comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

Coronavirus in MP: भोपाल-इंदौर समेत सात जिले रेड जोन में, बाकी सभी ग्रीन जोन, 5 हजार पार कोरोना संक्रमितों की संख्या

Coronavirus in MP: भोपाल-इंदौर समेत सात जिले रेड जोन में, बाकी सभी ग्रीन जोन, 5 हजार पार कोरोना संक्रमितों की संख्या

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि राज्य में कोरोना वायरस के संक्र मण को लेकर सिर्फ दो- रेड और ग्रीन जोन होंगे। राज्य के दो संपूर्ण जिलों इंदौर व उज्जैन को रेड जोन में शामिल किया गया है। वहीं मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बीते 24 घंटों में 259 की बढ़ोतरी हुई है और 4 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की संख्या 5,236 हो गई है और कोरोना मरीजों की मौत का आंकड़ा अब 252 हो गया है।

प्रदेश की जनता के नाम जारी अपने संदेश में सोमवार की रात को चौहान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हवाला देते हुए कहा, जान और जहान को बचाना है, आर्थिक गतिविधियां शुरू करनी हैं। इसके लिए विभिन्न वर्गो को लोगों से बातचीत करके लॉकडाउन के चौथे स्वरूप को तय किया गया है। प्रदेश में अब सिर्फ दो- रेड और ग्रीन जोन ही होंगे।

कंटेनमेंट एरिया में जाना पूरी तरह प्रतिबंधित
चौहान ने आगे कहा कि दोनों ही जोन में कंटेनमेंट एरिया और उससे लगा बफर एरिया होगा। कंटेनमेंट एरिया में सिर्फ अत्यावश्यक गतिविधियों की अनुमति होगी। इन जोन के भीतर आना और जाना पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा। अत्यावश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जाएगी। चिकित्सा सेवाएं जारी रहेंगी, इन क्षेत्रों में किसी तरह की औद्योगिक गतिविधियां संचालित नहीं होंगी। इन क्षेत्रों के बाहर उद्योग संचालित किए जा सकेंगे।

प्रदेश के ये जिले रेड जोन में
चौहान ने आगे बताया कि राज्य में इंदौर व उज्जैन के संपूर्ण जिले रेड जोन में होंगे। जिलों में शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों तक संक्रमण है। इसके अलावा भोपाल, बुरहानपुर, जबलपुर, खंडवा व देवास के नगर पालिक निगम क्षेत्र, मंदसौर, धार, कुक्षी व नीमच के नगर पालिका क्षेत्र रेड जोन में होंगे। इनके अलावा सभी शेष जिले ग्रीन जोन में होंगे।

कन्टेनमेंट क्षेत्रों में विशेष प्रतिबंध जारी रहेंगे
सीएम चौहान ने कहा कि लॉकडाउन-4 के दौरान सभी कन्टेनमेंट क्षेत्रों में विशेष प्रतिबंध जारी रहेंगे तथा केवल अत्यावश्यक गतिविधियों की अनुमति होगी। इस जोन के भीतर और बाहर लोगों का आना-जाना प्रतिबंधित रहेगा, केवल मेडिकल इमरजेंसी और आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति की जा सकेगी। कंटेनमेंट एरिया में उद्योग संचालित नहीं होंगे परंतु इनके बाहर सभी स्थानों पर उद्योग संचालित किये जा सकेंगे।

सभी जोन्‍स में प्रतिबंधित गतिविधियाँ
सीएम चौहान ने बताया कि सभी जोन्‍स में स्कूल, कॉलेज, कोचिंग, प्रशिक्षण संस्थान, होटल, रेस्टोरेंट, हॉस्पिटेलिटी सेवाएं, सिनेमा हॉल, शॉपिंग मॉल, जिम, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थियेटर्स, बार, ऑडिटोरियम प्रतिबंधित रहेंगे। इन जोन्‍स में सामुदायिक कार्यक्रम, सभी प्रकार के सामाजिक, राजनैतिक, खेलकूद, मनोरंजन, अकादमिक, सांस्कृतिक, धार्मिक आयोजन नहीं हो सकेंगे। सभी धार्मिक स्थल, पूजा स्थल तथा धार्मिक सभाएं प्रतिबंधित रहेंगी। शाम 07 बजे से सुबह 07 बजे तक लोगों का आवागमन, केवल अत्यावश्यक गतिविधियों को छोड़कर प्रतिबंधित रहेगा। सार्वजनिक परिवहन की बसें अभी एक सप्ताह तक प्रतिबंधित रहेंगी तथा इसके बाद समीक्षा कर निर्णय लिया जाएगा।

रैड जोन में अनुमत गतिविधियां
सीएम चौहान ने बताया कि रैड जोन के अंतर्गत मोहल्ले की दुकानें, स्टैंडअलोन दुकानें, रहवासी परिसर की दुकानें तथा बाजारों में स्थित आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली रहेंगी। ऑनलाइन शिक्षा चालू रहेगी। मेडिकल, पुलिस आवास, क्वारेंटाईन सेंटर, फंसे हुए लोगों के भोजन के लिए उपयोग किए जाने वाले होटल, बस डिपो, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट में संचालित कैंटीन, होम डिलेवरी करने वाले रेस्टोरेंट के किचन, स्पोर्ट्स काम्पलेक्स, स्टेडियम (बिना दर्शकों के), सभी प्रकार का माल परिवहन, कार्गो मूवमेंट तथा उनके खाली वाहनों का मूवमेंट जारी रहेगा। साथ ही सभी स्वास्थ्यकर्मियों एवं सफाईकर्मियों का आवागमन, उद्योगों के लिए श्रमिकों को लाने ले जाने की बसें तथा शासकीय एवं निजी कार्यालय 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चालू रहेंगे।

ग्रीन जोन में अनुमत गतिविधियां
सीएम चौहान ने बताया कि ग्रीन जोन में सभी क्षेत्रों के लिए प्रतिबंधित गतिविधियों को छोड़कर शेष सभी प्रकार की गतिविधियां संचालित की जा सकेंगी। इन क्षेत्रों में अन्य कोई पाबंदी नहीं रहेगी, सभी दुकानें एवं बाजार खुले रहेंगे, सब्जी मंडियां खुलेंगी, निजी व शासकीय कार्यालय पूरी क्षमता से चलेंगे तथा निजी वाहनों से आवागमन किया जा सकेगा। यदि किसी ग्रीन जोन जिले में पॉजिटिव प्रकरण बढ़ते है तो वह रैड जोन में परिवर्तित किया जा सकेगा। अपना जिला ग्रीन बना रहे इसके लिए सभी सावधानियां बरतें।

प्रदेश में अब तक 5,236 लोग संक्रमित
राज्य के स्वास्थ्य विभाग द्वारा सोमवार को जारी बुलेटिन के मुताबिक, राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या 4977 से बढ़कर 5236 हो गई। इंदौर में 24 घंटों में 95 नए मरीज सामने आए हैं और कुल संख्या बढ़कर 2565 हो गई है। राजधानी भोपाल में 38 नए मरीज सामने आए और कुल आंकड़ा 1030 हो गया है। इसी तरह खंडवा में 69 नए मरीज मिले हैं।

राज्य में कोरोना संक्रमण से अब तक 252 लोगों की मौत
स्वास्थ्य बुलेटिन के ब्यौरे के अनुसार, मौतों की संख्या 248 से बढ़कर 252 हो गई है। अब तक इंदौर में 100, भोपाल में 38, उज्जैन में 47 मरीजों की मौत हुई है। अब तक 2435 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। इनमें सबसे ज्यादा इंदौर के 1,119 संक्रमित लोग स्वस्थ हुए हैं। भोपाल में 564 मरीज स्वस्थ हुए हैं। स्वस्थ हुए लोग अगर चाहें तो अपना प्लाज्मा दान कर दूसरों की जान बचा सकते हैं।

कमेंट करें
TCN89
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।