comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

नागपुर के जिलाधिकारी कार्यालय में नियमों की अनदेखी कर जुट रही भीड़

नागपुर के जिलाधिकारी कार्यालय में नियमों की अनदेखी कर जुट रही भीड़

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कोराना संक्रमण पर नियंत्रण के लिए धारा 144 लागू की गई है। इसके बावजूद अनेक इलाकों में लोगों का जमघट नजर आ रहा है। जिलाधिकारी, तहसील कार्यालय भी इससे अछूता नहीं है।   परिसर में 5 से ज्यादा लोग झुंड बनाकर आपस में चर्चा करते नजर आए। एहतियातन जिलाधिकारी कार्यालय का एक मुख्य द्वार बुधवार को बंद किया गया, सेतु कार्यालय भी बंद रहा लेकिन इससे कुछ खास फर्क नहीं पड़ा है। आम दिनों की तरह यहां बुधवार को भी लोगों की भीड़ नजर आयी। जिलाधिकारी कार्यालय के मुख्य द्वार से सटे फुटपाथ पर दलालों और आनेवाले नागरिकों को लॉकडाउन के नियमों का खुलेआम उल्लंघन करते देखा गया। इस मामले में न पुलिस विभाग द्वारा किसी प्रकार की कार्रवाई की गई, न ही जिला प्रशासन ने नियमों का सख्ती से पालन करवाने में रुचि दिखाई। जिलाधिकारी कार्यालय परिसर स्थित विवाह पंजीकरण अधिकारी व सहदुय्यम निबंधक कार्यालय में लोगों का जमघट दिखाई दिया। इस कार्यालय परिसर में जहां-तहां लोग भीड़ के रूप में नजर आए। कुल मिलाकर जिलाधिकारी कार्यालय का एक  द्वार और सेतु कार्यालय बंद रखना मात्र दिखावा साबित हुआ। लाेग जिलाधिकारी कार्यालय के मुख्य द्वार से बेरोकटोक गुजरते नजर आए।

ऑनलाइन आवेदन करने में परेशानी
लॉकडाउन के दौरान जिलाधिकारी कार्यालय के सेतु में ऑनलाइन आवेदन करने की सलाह दी गई थी। बावजूद इसके अनेक लोग यहां इन्कम सर्टिफिकेट, शपथपत्र, क्रीमिलेअर सर्टिफिकेट व अन्य दस्तावेज बनवाने के लिए पहुंचे थे। इन्कम सर्टिफिकेट बनवाने के लिए यहां पहुंचे मोंटी चव्हाण ने बताया कि उसे ऑनलाइन आवेदन करना नहीं आता है। सेतु बंद है और उसे अर्जंट इन्कम सर्टिफिकेट चाहिए। मनीषा श्रीवास अपनी मां को साथ ले यहां नजूल विभाग से जमीन की लीज लेने के लिए आयी थी। उसने बताया कि उसे 30 अप्रैल के बाद अाने की सलाह दी गई है।

दलालों की सक्रियता बढ़ी
जिलाधिकारी कार्यालय का एक मुख्य द्वार बंद रखा गया था तथा तहसील कार्यालय का मुख्य द्वारा आधा ही खोला गया। सेतु कार्यालय बंद होने की वजह से यहां दलाल अधिक सक्रिय हो उठे। यह दलाल ऑनलाइन आवेदन करने अथवा अंदर से काम करवाने का दावा करते हुए ग्राहकों को फांसने में जुटे रहे। इस दौरान दलालों के इर्द-गिर्द भी लोगों का झुंड दिखाई पड़ा। नियम टूटा ,लेकिन कार्रवाई नहीें की गई।

कमेंट करें
9Grxp