comScore

ढील देते ही उमड़ी भीड़, व्यापारियों ने बंद करवाया मार्केट

ढील देते ही उमड़ी भीड़, व्यापारियों ने बंद करवाया मार्केट

डिजिटल डेस्क, नागपुर। लॉकडाउन के बीच धीरे-धीरे व्यापार और उद्योग शुरू हो रहे हैं। महानगरपालिका के दिशा-निर्देश के अनुसार, यदि एक साथ 5 दुकानें हैं, तो उसे मार्केट माना जाएगा और मार्केट खोलने की अनुमति प्रशासन ने नहीं दी है। इस ‘अस्पष्टता’ के कारण व्यापारी वर्ग असमंजस में है।   असमंजस के बीच  बर्डी स्थित मोबाइल मार्केट, कमाल चौक और जरीपटका मार्केट में कई दुकानें खुलीं लेकिन ढील मिलते ही भीड़ के उमड़ने से व्यापारियों को खुद इसका विरोध करना पड़ा।

माेबाइल मार्केट में लगी भीड़
सुबह 11.30 बजे बर्डी स्थित माेबाइल मार्केट की दुकानेें खुलते ही भीड़ उमड़ पड़ी। यह देख स्थानीय लोगों ने पुलिस को फोन किया, जिसके बाद केवल आधे घंटे में मार्केट फिर से बंद कर दिया गया। प्रशासन ने मोबाइल रिपेयरिंग की दुकानें खोलने की अनुमति दी थी। 

आयुक्त से मिलने गए थे
 नागपुर मोबाइल फोन एंड मोबाइल एसोसिएशन के अध्यक्ष शिवकुमार गिडवानी ने बताया कि मार्केट शुरू करने को लेकर असमंजस है। इसीलिए सुबह हम मनपा आयुक्त से मिलने गए थे, लेकिन उनसे मुलाकात नहीं हो पाई। इस बीच मार्केट में कुछ दुकानें खुल गईं थीं। लोगों के विरोध के बाद मार्केट की सभी दुकानें बंद कर दी गईं। प्रशासन ने सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को मोबाइल रिपेयरिंग की दुकानें खोलने की अनुमति दी है। 

कमाल चौक में तनातनी
ऐसा ही मामला कमाल चौक में भी दिखाई दिया। कमाल चौक में बहुत सी दुकानें खुल गई थीं, लेकिन आम जनता से पहले यहां के व्यापारी संगठन ने संज्ञान लिया और व्यापारियों से दुकानें बंद करने की अपील की। कई व्यापारियों ने विरोध भी किया। 

समझाने का प्रयास किया
कमाल चौक व्यापारी एसोसिएशन के सचिव टिंकू धीर ने बताया कि  कमाल चौक मेन रेड की दुकानें खुल गई थीं। भीड़ उमड़ने लगी, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का बिल्कुल भी पालन नहीं हो रहा था। प्रशासन ने भी बाजार शुरू करने की अनुमति नहीं दी है। प्रशासन के आदेश का उल्लंघन करने पर व्यापारियों को जुर्माना देना पड़ सकता था, इसीलिए हमने दुकानदारों को समझाने का प्रयास किया। 
 

कमेंट करें
IQxEB