दैनिक भास्कर हिंदी: भोपाल के तीन थाना क्षेत्रों से कर्फ्यू हटा,  जमीन का RSS से है ये कनेक्शन 

January 18th, 2021

डिजिटल डेस्क ( भोपाल)।  मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में सांप्रदायिक सद्भाव बिगड़ने की आशंका के चलते तीन थाना क्षेत्रों में लगाया गया कर्फ्यू हटा लिया गया है। यहां धारा 144 लागू रहेगी और जुलूस आदि निकालने की अनुमति नहीं होगी। राजधानी के कबाड़खाना इलाके में एक स्थान पर चाहरदीवारी का निर्माण कराया जाना था क्योंकि न्यायालय ने एक पक्ष में फैसला सुनाया था और दूसरा पक्ष उसका विरोध कर रहा था। प्रशासन को आशंका थी कि इस निर्माण के चलते सांप्रदायिक सद्भाव बिगड़ सकता ह्रै, प्रशासन ने एहतियाती तौर पर रविवार को हनुमानगंज, टीला जमालपुरा और गौतम नगर थाना क्षेत्र में कर्फ्यू लगाया था।

जिलाधिकारी अविनाश लवानिया ने रविवार की देर रात एक आदेश जारी कर कर्फ्यू हटा दिया है, वहीं तीनों थाना क्षेत्रों में प्रतिबंधात्मक धारा 144 लागू रहेगी और इस क्षेत्र में पांच और पांच से ज्यादा व्यक्ति इकटठा नहीं हो सकेंगे, जुलूस और प्रदर्शन आदि नहीं होगा और न ही लोग उसमें हिस्सा लेंगे।


दरअसल, पुराने भोपाल में एक जगह है, जिसे सिंधी कॉलोनी कहा जाता है। यहीं पर 37 हजार वर्गफीट से ज्यादा एरिया में फैला एक मैदान है। इस मैदान के सामने RSS का भवन 'केशव नीडम' है, जो 35 साल से भी ज्यादा पुराना है। इसे संघ का भोपाल विभाग का पहला भवन कहा जाता है। भवन और मैदान आमने-सामने हैं, इसीलिए मीडिया में ये मैसेज वायरल हो गया कि जमीन संघ की है और वही निर्माण करवा रहा है। जबकि जमीनी हकीकत इससे अलग है। 

जानकारी के मुताबिक, राजदेव जनसेवा न्यास ने 2001 में इस जमीन पर कम्युनिटी हॉल के लिए भूमिपूजन किया था। बाद में वक्फ बोर्ड ने जमीन पर अपना दावा जताया था। मामला कोर्ट पहुंचा और कोर्ट ने 2019 में ही न्यास के पक्ष में फैसला सुनाया था।  लेकिन जमीन पर कब्जा अब मिला है। ऐसे में किसी तरह का विवाद ना हो इसलिए धारा -144 लागू की गई है। 

खबरें और भी हैं...