दैनिक भास्कर हिंदी: फोनी का असर रीवा संभाग में, चली तेज हवाएं,अलर्ट

May 6th, 2019

डिजिटल डेस्क,सतना। चक्रवाती तूफान फोनी के असर से रीवा संभाग भी अछूता नहीं है। शुक्रवार की दोपहर इसके असर के कारण जिला मुख्यालय समेत जिले में मौसम का मिजाज एक बारगी बिगड़ गया। तकरीबन 70 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से अधड़ आया और अपने साथ धारदार बरसात भी लाया। मौसम महकमे के मुताबिक दोपहर 2 बजे से 4 बजे के बीच यहां लगभग एक इंच बारिश हुई। इस बीच चने समान ओले भी गिरे। मौसम की बदमिजाजी का ज्यादा असर जिले के पूर्वी-पश्चिमी क्षेत्र में रहा। इसी बीच कई दरख्त धराशायी हो गए। मौसम महकमे ने अगले 48 घंटे के लिए रीवा संभाग के सतना-रीवा,सीधी और सिंगरौली जिलों में अलर्ट जारी किया है। चेतावनी में आशंका जताई गई है कि तेज हवाओं के साथ बारिश और ओलों की बरसात हो सकती है। एक पूर्वानुमान के मुताबिक 6 मई तक यहां ऐसे ही हालात रह सकते हैं। माना जा रहा है कि चक्रवाती तूफान फोनी के प्रभाव से पूर्वी-उत्तरी मध्यप्रदेश में ऊपरी हवा का चक्रवात बना है।

डाल गिरने से बुजुर्ग की मौत 
उधर,नागौद पुलिस ने बताया कि थाना क्षेत्र के लालपुर गांव में तेज आंधी के कारण आम के एक पुराने दरख्त की एक मोटी डाल गिरने से 65 वर्षीय बुजुर्ग सुकुरवा चौधरी पिता जग्गा की मृत्यु हो गई। बताया गया है कि जिस वक्त तेज रफ्तार अंधड़ आया, उस वक्त सुकुरवा आम के बगीचे में आम बीन रहा था। इसी बीच एक मोटी डाल टूट कर उस पर गिरी। उसे गंभीर हालत में इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

गेहूं की बरबादी देख बेहोश हुआ बकिया केन्द्र का प्रभारी
भारी बारिश के कारण गेहूं की बरबादी के सदमे के कारण सेवा सहकारी समिति बकिया का प्रभारी रात तकरीबन 8 बजे बेहोश हो गया। हासिल जानकारी के अनुसार अन्य कर्मचारी एवं किसानों की सहायता से बेहोशी की हालत में उक्त समिति प्रबंधक को इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया है। बताया जाता है कि इस केन्द्र में कई दिनों से किसानों  से खरीदा गया 10 हजार 5 सौ क्विंटल गेहूं खुले आसमान के नीचे रखा है। जिसका परिदान संबंधित ट्रांसपोटर द्वारा नहीं करवाया गया। केन्द्र में बारिश से बचाने के लिए अन्य समितियों की तरह बकिया केन्द्र को भी संबंधित विभागों द्वारा आवश्यक सामग्री नहीं दी गई। जिसके कारण कई अन्य केन्द्रों में भी हजारों मिट्रिक टन भीगकर बर्बाद होने की नौवत खड़ी हो गई है।

दमघोंटू उमस बढ़ी 
मौसम में आए बदलाव से न्यूनतम तापमान जहां सामान्य से 3 डिग्री ऊपर चला गया,वहीं दमघोंटू उमस भी घरों में घुस गई। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 40.06 डिग्री और न्यूनतम तापमान 28.8 डिग्री मापा गया। इसी तरह सुबह हवा में नमी 38 और शाम को 70 फीसदी मापी गई। माना जा रहा है कि 6 मई तक मौसम खुशनुमा रहने के कारण भीषण गर्मी से राहत रहेगी। यहां 6 मई को मतदान होने के कारण वोट रेट में भी वृद्धि की संभावना है। 
 

खबरें और भी हैं...