दैनिक भास्कर हिंदी: दाभोलकर हत्या मामला : सचिन अंदुरे की CBI हिरासत दो दिन बढ़ी

August 30th, 2018

डिजिटल डेस्क, पुणे। महाराष्ट्र अंधश्रध्दा निर्मूलन समिति के संस्थापक अध्यक्ष डॉ. नरेंद्र दाभोलकर हत्या प्रकरण में गिरफ्तार सचिन अंदुरे की गुरूवार को कोर्ट ने दो दिन CBI हिरासत बढ़ा दी है। अब अंदुरे और नालासोपारा विस्फोटक मामले में गिरफ्तार शरद कलसकर की एकत्रित रूप से जांच की जाएगी। गौरतलब है कि 9 अगस्त को महाराष्ट्र एटीएस ने मुंबई के नालासोपारा में हिंदूत्ववादी कार्यकर्ता वैभव राऊत के घर पर छापा मार बड़े पैमाने पर विस्फोटक जब्त किए थे।

राऊत की गिरफ्तारी के बाद एटीएस ने शरद कलसकर और सुधन्वा गोंधलेकर को 10 अगस्त को गिरफ्तार किया था। विस्फोटक प्रकरण की जांच करते समय एटीएस को डॉ. दाभाेलकर हत्या प्रकरण के सुराग मिले। कलसकर से की गई गहरी पूछताछ में सचिन अंदुरे का नाम सामने आया। कलसकर और अंदुरे मित्र हैं, जिस कारण एटीएस ने 18 अगस्त को औरंगाबाद से अंदुरे को गिरफ्तार किया। दाभोलकर हत्या में उसके शामिल होने की जानकारी मिलने के बाद एटीएस ने उसे CBI को सौंप दिया। पुणे कोर्ट ने अंदुरे को 30 अगस्त तक CBI हिरासत में भेज दिया था।

गुरूवार को अंदुरे की CBI हिरासत खत्म होने के कारण उसे न्यायलय में पेश किया गया था। CBI के वकील ने कोर्ट को बताया कि अंदुरे और शरद कलसकर मित्र है। डॉ. दाभोलकर हत्या प्रकरण में कलसकर भी शामिल हैं। इसलिए अंदुरे और कलसकर की एकसाथ जांच करना जरूरी है। इसलिए अंदुरे की हिरासत दो दिन बढ़ा दी जाए। दोनों पक्षों की जिरह सुनने के बाद कोर्ट ने अंदुरे की 1 सितंबर तक हिरासत बढ़ा दी। कलसकर 3 सितंबर तक महाराष्ट्र एटीएस की हिरासत में है। मुंबई उच्च कोर्ट ने CBI को कलसकर की हिरासत देने से इनकार किया। इसलिए अब CBI अंदुरे को लेकर एटीएस के पास जाएगी। वहां दोनों को आमने सामने बिठाकर जांच की जाएगी।