मध्य प्रदेश: दलित आरटीआई कार्यकर्ता को पीटा, पेशाब पीने को किया मजबूर

February 28th, 2022

 डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश पुलिस ने ग्वालियर जिले में एक दलित आरटीआई कार्यकर्ता की कथित तौर पर पिटाई करने और उसे पेशाब पीने के लिए मजबूर करने के आरोप में सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है और दो लोगों को गिरफ्तार किया है। पीड़ित की पहचान शशिकांत जाटव के रूप में हुई है, जो सूचना का अधिकार (आरटीआई) कार्यकर्ता है।

पुलिस ने कहा कि यह घटना 23 फरवरी को हुई थी, हालांकि रविवार को प्राथमिकी दर्ज होने के बाद पता चला कि सात लोगों ने एक दलित कार्यकर्ता की बेरहमी से पिटाई की और पीड़ित को पेशाब पीने के लिए मजबूर किया। स्थानीय पुलिस (ग्वालियर जिला) ने कहा कि दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है और अन्य पांच आरोपियों की तलाश की जा रही है।

पुलिस के अनुसार, जाटव स्थानीय आरटीआई कार्यकर्ता है और उसने ग्वालियर जिले की ग्राम पंचायत में धन के कुप्रबंधन की जानकारी मांगी थी। यह बात पंचायत प्रतिनिधि से जुड़े कुछ लोगों को रास नहीं आई और उन्हें सबक सिखाने का फैसला किया। पुलिस ने कहा कि गंभीर रूप से घायल आरटीआई कार्यकर्ता को 24 फरवरी को एक स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया था और अब उसे आगे के इलाज के लिए दिल्ली के एम्स में रेफर कर दिया गया है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, एक मामला दर्ज किया गया है और कुल सात लोगों पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है। उन पर अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम के प्रावधानों के तहत भी मामला दर्ज किया गया है।

(आईएएनएस)