दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर यूनिवर्सिटी में इस बार डिग्रियों में 20 प्रतिशत की वृद्धि

January 20th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय 3 अप्रैल को अपना 108 वां दीक्षांत समारोह मनाने की तैयारी कर रहा है। हालांकि इस तारीख पर अभी मुहर लगना बाकी है, लेकिन यूनिवर्सिटी प्रशासन 3 अप्रैल का ही लक्ष्य लेकर तैयारी कर रहा है। 

रिकॉर्ड तोड़ रिजल्ट आए थे
इस वर्ष दीक्षांत समारोह में अंडरग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्रियों में करीब 20 प्रतिशत की वृद्धि की उम्मीद है। इसका सीधा कारण है कि इस बार ली गई ऑनलाइन परीक्षा में रिकॉर्ड तोड़ रिजल्ट आए  हैं। विद्यार्थियों को 100 में 100 अंक मिले हैं, तो पाठ्यक्रमों के नतीजे 99% को भी पार कर चुके हैं। इसका सीधा असर अब दीक्षांत समारोह में आवंटित होने वाली डिग्रियों पर देखने को मिलेगा।  वर्ष 2020 में हुए 107वें दीक्षांत समारोह में नागपुर यूनिवर्सिटी ने कुल 64,241 डिग्रियां आवंटित की थी। इसमें अंडरग्रेजुएशन की 50,936 और पोस्ट ग्रेजुएट की 13,032 डिग्रियां शामिल थीं। परीक्षा विभाग ने दीक्षांत समारोह के मद्देनजर तैयारियां शुरू कर दी है।

ऐसे रहे परिणाम
नागपुर यूनिवर्सिटी की ग्रीष्मकालीन ऑनलाइन परीक्षा में अभूतपूर्व नतीजे आए हैं। यूनिवर्सिटी ने अंतिम सेमेस्टर के 203 पाठ्यक्रमों की परीक्षा ली थी, जिसमें कुल 66997 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। इसमें से 953 परीक्षार्थी ही असफल हुए। कई पाठ्यक्रम तो ऐसे हैं, जहां रिजल्ट कुल 40 से 50 प्रतिशत ही हुआ करते थे। ऑनलाइन परीक्षा में इन्हीं पाठ्यक्रमों के नतीजे 90 प्रतिशत पार कर गए।

यह रहेगा आकर्षण
इस वर्ष नागपुर यूनिवर्सिटी ने देश के मुख्य न्यायाधीश शरद बोबड़े को डी.लिट या एलएलडी की मानद डिग्री देने का निर्णय लिया है। विवि की मैनेजमेंट काउंसिल से यह प्रस्ताव पास हुआ है। अब सीनेट की अनुमति की जरूरत है। इसके लिए नागपुर यूनिवर्सिटी सीनेट की विशेष सभा लेगा। न्या.बोबड़े 23 अप्रैल को सेवानिवृत्त होने जा रहे हैं। ऐसे में नागपुर यूनिवर्सिटी इसके पहले ही दीक्षांत समारोह लेकर अपने फैसले पर अमल करने की तैयारी कर रहा है।