comScore

ऑक्सीजन की कमी के कारण जयपुर गोल्डन अस्पताल में 20 मरीजों की मौत

ऑक्सीजन की कमी के कारण जयपुर गोल्डन अस्पताल में 20 मरीजों की मौत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में अभी कोरोना की दूसरी लहर अपने चरम पर है। हर राज्य में हजारों की तादाद में संक्रमित अस्पताल पहुंच रहे है। राज्यों में संक्रमितो की संख्या बढ़ने के साथ ही ऑक्सीजन की कमी सामने आ रही है। ताजा मामला देश की राजधानी दिल्ली का है जहां जयपुर गोल्डन अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के कारण 20 मरीजों की मौत हो गई।

ANI की ट्वीट के अनुसार सुबह करीब 10 बजे जयपुर गोल्डन अस्पताल में इन मरीजों का इलाज चल रहा था पर ऑक्सीजन की कमी के कारण मरीजों को नहीं बचाया जा सका। ताजा आंकड़ों के मुताबिक भारत में बीते 24 घंटे में 2 हजार 624 लोगों की जान कोरोना संक्रमण से गई है।

सिर्फ आधे घंटे की ऑक्सीजन शेष
जयपुर गोल्डन अस्पताल के डॉक्टर ने मीडिया से जानकारी साझा करते हुए बताया कि अस्पताल में सिर्फ़ आधे घंटे की ऑक्सीजन शेष रह चुकी है। अभी अस्पताल में कुल 200 मरीज वैंटिलेटर पर है। कल रात ऑक्सीजन की कमी के कारण 20 मरीजों की मौत हो गई। देश में यह पहला मामला नहीं है जब कोरोना संक्रमितों को ऑक्सीजन के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है। देश में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या तीन लाख के पार पहुंच चुकी है। ANI के अनुसार अभी तक कुल 1 करोड़ 38 लाख 67 हज़ार 880 मरीज रिकवर किए जा चुके हैं। वहीं, मरने वालों की कुल संख्या 1 लाख 89 हजार 544 है।

आठ घंटे तक मरीज करते रहा इंतजार 
देश में अबतक कोरोना के सर्वाधिक मामले महाराष्ट्र दिल्ली, यूपी से आ रहे हैं। इन्हीं राज्यों में ज़्यादातर मौत दर्ज़ की गई हैं। बीते दिन महाराष्ट्र के नासिक और यूपी के कन्नौज में दिल-दहलाने वाले वाक्या सामने आया था। नासिक के जाकिर हुसैन अस्पताल मे ऑक्सीजन लीक होने के कारण 24 मरीजों की मौत हो गई थी। इसके अलावा यूपी के कन्नौज राजकीय मेडिकल अस्पताल में भी चार मरीजों की मौत ऑक्सीजन की कमी के कारण हुई। मृतक के परिजन आठ घंटे तक ऑक्सीजन सिलैंडर का इंतजार करते रहे पर सिलैंडर नहीं पहुंचा, जिसके कारण चार मरीजों को अपनी जान गवानी पड़ी।

भीख मांगे,चोरी करें या उधार लें
21 अप्रैल को दिल्ली हाईकोर्ट ने सरकार को फटकार लगाते हुए कहा था कि ऑक्सीजन की कमी नहीं होनी चाहिए। सरकार चाहे भीख मांगे,चोरी करें या उधार लें। ऑक्सीजन की कमी को पूरा करे। दिल्ली हाईकोर्ट ऑक्सीजन की कमी पर लगी याचिका पर सुनवाई कर रही थी। तब उन्होंने  सरकार की लापरवाही पर यह टिप्पणी की। इसके अलावा आज भी दिल्ली हाईकोर्ट में ऑक्सीजन की कमी पर सुनवाई करते हुए जस्टिस विपिन सांघी  ने कहा कि अगर ऑक्सीजन की आपूर्ति में खलल डाली तो उसे फांसी की सजा सुनाई जाएगी, वो चाहे कोई भी हो। महाराजा अग्रसेन हॉस्पिटल ने ऑक्सीजन दिए जाने की मांग पर दिल्ली हाईकोर्ट में अपील की थी। कोर्ट में दिल्ली सरकार ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि दूसरे राज्यों से ऑक्सीजन की सप्लाई में बाधा डाला जा रही है।  इस मामले  की सुनवाई  जस्टिस विपिन सांघी और जस्टिस रेखा पल्ली कर रही है।




 

कमेंट करें
Z36yr