विकास पर जोर: तेलंगखेड़ी बगीचे का विकास लोक सहभाग से हो : गडकरी

February 28th, 2022

डिजिटल डेस्क,नागपुर। बॉटनिकल गार्डन का विकास करने का प्रयास हुआ, लेकिन वह अपेक्षा अनुसार नहीं हो सका। अब तेलंगखेड़ी बगीचे का विकास हम करने जा रहे  हैं। दुनिया भर के गुलाब के फूलों की विभिन्न प्रजाति बगीचे में लगाकर शहर का सौंदर्य बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। इसके लिए लोक सहभाग की आवश्यकता है। शहर विकास के लिए सर्वदलीय मान्यवर एकत्रित आए हैं और दायरे से बाहर की संकल्पनाओं को रखकर वह कैसे सफल हो सकती है, इस बारे में विचार-मंथन किया गया है। यह बेहद खुशी की बात है। यह विचार केंद्रीय मंत्री नितीन गडकरी ने व्यक्त किए। सिविल लाइंस स्थित दक्षिण मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र में आयोजित ‘नागपुर कट्टा’ कार्यक्रम में वे बोल रहे थे। 

‘नागपुरी कट्टा’ का उद्देश्य
 आरंभ में जयप्रकाश गुप्ता ने  ‘नागपुरी कट्टा’ की भूमिका रखी। तेलंगखेड़ी बगीचे के विकास के लिए विविध प्रकार के आकर्षक फूल-पौधे, गुलाब पुष्प की विविध प्रजाति प्राप्त करने के लिए लोगों से मदद करने का आह्वान करते हुए केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि हेरिटेज समिति के कारण पुराने निर्माणकार्य की दुरुस्ती नहीं की जा सकती। तेलंगखेड़ी तालाब की दीवार की दुरुस्ती करना है, लेकिन हेरिटेज के कारण वह संभव नहीं है। अब मेयो हॉस्पिटल से शहीद चौक तक रास्ता फोर लेन किया जाएगा। लोगों का सहयोग मिला, तो वह हो सकता है। नागपुर के विकास का प्रश्न आने पर दलगत राजनीति और मतभेद भूलकर सभी लोग एक साथ आएं, यही ‘नागपुरी कट्टा’ का उद्देश्य है। ‘नागपुरी कट्टा’ के कारण शहर की जनता के सामने सकारात्मक चित्र निर्माण होगा, यह विश्वास है। 

पर्यटन से विकास हो
इस अवसर पर महापौर दयाशंकर तिवारी, दैनिक भास्कर के समूह संपादक प्रकाश दुबे, विलास काले, डॉ. वेदप्रकाश मिश्रा, मुधोजीराजे भोसले ने विकास को लेकर विविध संकल्पनाएं सबके सामने रखीं। बबनराव तायवाडे ने कट्टा के लिए कोई एक जगह मिले, यह अपेक्षा व्यक्त की। सांसद कृपाल तुमाने ने किसानों की पारंपरिक फसल लगाने की आदत बदलने और पर्यटन से विकास साधने की अपेक्षा की। सांसद डॉ. विकास महात्मे, पूर्व राज्यसभा सदस्य अजय संचेती, विधायक जोगेंद्र कवाडे, एड. घारपुरे आदि उपस्थित थे।