comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

अयोध्या में दिव्य दीपो​त्सव: सरयू तीरे आस्था और आत्मीयता के 5.84 लाख दीपों से जगमग हुई अयोध्या, देखें तस्वीरें


डिजिटल डेस्क, अयोध्या। अयोध्या में शुक्रवार को सम्पन्न दीपोत्सव में आस्था और आत्मीयता के दीप जले। श्री राम जन्मभूमि मन्दिर निर्माण शुरू होने से उपजे आत्मीयता के भावों को संजोए हुए आराध्य प्रभु के प्रति आस्था निवेदित करते हुए सरयू तीरे जल रहे 5,84,572 दीपों के बीच निहाल श्रद्धालुओं का हर्ष और उल्लास देखते ही बन रहा था। सहज भाव से हो रहे राम राम जय राजा राम जय सिया राम राजा रामचन्द्र की जय जयघोष के साथ सरयू की लहरों में उठती तरंगें देख, ऐसा लगता था कि मानों सरयू मैया भी अपने राम की जयकार कर रही हों। दीपोत्सव के लिए पूरी अवधपुरी को सजाया गया था। अयोध्या की छोटी गलियों से लेकर मुख्य मार्गो, सभी सरकारी, धार्मिक भवनों पर आकर्षक लाइटिंग की ही गई थी, नगरवासियों ने भी अपने घरों को सजाया-संवारा था।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अयोध्या के प्रति प्रतिबद्धता ने एक बार फिर इस प्राचीन नगरी को वैश्विक रिकॉर्ड सूची में दर्ज कराया है। गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्डस के प्रतिनिधियों ने उत्तर प्रदेश सरकार के इस भव्य दीपोत्सव को देखा-परखा और अंतत: एक साथ एक स्थान पर इतनी बड़ी संख्या में दीप प्रज्जवलन को नवीन विश्व कीर्तिमान का दर्जा दिया। दीपोत्सव के लिए सैकड़ों स्वयंसेवक समर्पित भाव से डटे रहे। कीर्तमान रचने में अवध विश्वविद्यालय, अयोध्या के शिक्षकों व छात्रों की बड़ी भूमिका रही। दीप प्रज्जवलन का नियत समय शुरू होते ही श्री राम जय राम जय जय राम के जाप के साथ एक-एक कर 5,84,572 दीप जलाए गए। गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड के प्रतिनिधियों द्वारा कीर्तिमान रचने की घोषणा के साथ ही पूरी अयोध्या जय श्री राम के उद्घोष से गुंजायमान हो उठी। लाउडस्पीकर के माध्यम से लगातार दीपोत्सव की जानकारी दी जा रही थी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नए रिकॉर्ड के लिए अयोध्या सहित देश-दुनिया के सभी राम भक्तों को बधाई दी। नया घाट पर विश्व कीर्तिमान की घोषणा होने के बाद उन्होंने कहा कि अब अगले वर्ष का दीपोत्सव एक नए कीर्तिमान को गढ़ेगा। आज के कीर्तिमान के लिए अयोध्यावासी विशेष बधाई के पात्र हैं।

उन्होंने कहा, अयोध्या में आज का उल्लास बताता है कि त्योहार किस प्रकार मनाना चाहिए। प्रदूषण रहित दिवाली और डिजिटल दिवाली का सुंदर उदाहरण यहां सबने देखा। यह यूनीक है। सबकी सहभागिता से यह त्योहार आज पूरी दुनिया का ध्यान आकर्षित कर रहा है। यह हर भारतवासी का पर्व है।

आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व कैबिनेट के अन्य सहयोगियों ने दीप जलाकर सरयू मईया की आरती उतारी। कोविड प्रोटोकॉल के कारण गणमान्य जनों के लिए नया घाट पर अलग-अलग आरती स्थल तैयार किए गए थे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जगतगुरु वासुदेवाचार्य विद्याभास्कर जी महाराज के साथ विधि-विधान से सरयू मईया की आरती भी उतारी, तो राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी, जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह और अनेक साधु-संतों ने अलग-अलग स्थलों से सरयू पूजन किया। विशिष्ट जनों द्वारा आरती के लिए सात मंच तैयार किए गए थे।

सरयू तट पर लेजर शो के जरिए रामायण को दिखाया गया।

सरयू तट पर लेजर शो के जरिए रामायण को दिखाया गया।

दीपोत्सव में साधुओं ने भी दीये जलाए।

दीपोत्सव में साधुओं ने भी दीये जलाए।

यह फोटो राम की पैड़ी की है। यहां पूरा घाट रोशनी में नहाया हुआ है।

यह फोटो राम की पैड़ी की है। यहां पूरा घाट रोशनी में नहाया हुआ है।

राम कथा पार्क में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राम-लक्ष्मण का तिलक किया।

राम कथा पार्क में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राम-लक्ष्मण का तिलक किया।

भगवान राम के अयोध्या पहुंचने पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा की गई।

भगवान राम के अयोध्या पहुंचने पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा की गई।

Image 

Image

कमेंट करें
irwBc
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।