दैनिक भास्कर हिंदी: मराठा आंदोलनकारियों को नक्सली बनने पर मजबूर न करें : सांसद भोसले

August 6th, 2018

डिजिटल डेस्क, पुणे। सांसद उदयनराजे भोसले ने रविवार को मराठा आरक्षण को लेकर एक विवादित बयान दे दिया। उन्होंने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि मराठा आंदोलनकारियों को नक्सली बनने पर मजबूर न करें। आरक्षण के प्रश्न को तत्काल सुलझाएं नहीं तो बात और बिगड़ेगी। सांसद भोसले की उपस्थिति में मराठा आरक्षण परिषद संपन्न हुई। इसमें मराठा क्रांति मोर्चा के 100 समन्वयक उपस्थित थे। मोर्चा की अगली दिशा क्या होगी इसको लेकर परिषद में विचार विमर्श हुआ। इस मौके पर सांसद भोसले ने कहा कि पिछले तीस सालों से आरक्षण मुद्दे पर केवल चर्चा की जा रही है। वर्तमान तथा तत्कालिन सरकार ने आरक्षण के मुद्दे को नजरअंदाज किया। जिस कारण स्थिति अधिक बिगड़ गई है। फायदे की राजनीति के लिए अब तक कईयों की बली गई है।

सरकार द्वारा जो खेल खेला जा रहा है वह कब रूकेगा?
उदयनराजे भोसले ने कहा कि यदी समय पर आरक्षण दिया जाता, तो लोगों पर सड़क पर उतरना ही नहीं पड़ता। आरक्षण को लेकर सरकार द्वारा जो खेल खेला जा रहा है वह कब रूकेगा? मराठा समाज को आरक्षण देना है या नहीं यह एक बार सरकार स्पष्ट करें। आरक्षण के लिए जो खुद की जान दे सकता है, वह दूसरे की जान भी ले सकता है, यह न भुले। इसलिए सभी राजनीतिज्ञों से हाथ जोड़कर अनुरोध है कि आरक्षण का प्रश्न तत्काल सुलझाएं अन्यथा माहौल खराब हो सकता है। सांसद भोसले ने समन्वयकों से कहा कि उनकी सूचनाओं का ज्ञापन सरकार को भेजा जाएगा। आरक्षण पर निर्णय भी जल्द ही होगा, लेकिन तब तक आत्महत्या और तोड़फोड़ न करें।