comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

आसमान में छाए बादल और जमकर बरसे मेघा, छत गिरने से टॉकीज में मची भगदड़

September 25th, 2018 14:47 IST
आसमान में छाए बादल और जमकर बरसे मेघा, छत गिरने से टॉकीज में मची भगदड़

डिजिटल डेस्क, नागपुर। रविवार सुबह से आसमान में बदली छाई रही। दोपहर बाद जमकर बारिश हुई, जिससे सड़कों पर जल भराव हो गया। जबकि शनिवार शाम को हुई तेज बारिश से जगह-जगह सड़कों पर पानी भर गया, जिससे रास्ते जाम हो गए। इससे यातायात का बुरा हाल हुआ। कई घरों में पानी घुस गया जगह-जगह पेड़ धराशायी हो गए। शाम को बाजारों की रौनक गायब हो गई आैर रात के तापमान में भारी गिरावट आई। मौसम विभाग के अनुसार मानसून शहर में पहुंच चुका है। सही मायने में यह मानसून की पहली बारिश है। मूसलाधार बारिश से सड़कें जाम हो गईं। कई जगह सड़कों पर घुटनों तक पानी जमा हो गया।

भारी बारिश के चलते लोग जहां थे, वहीं रुकने को मजबूर हो गए। तेज बारिश से शाम को बाजार खाली-खाली नजर आए। चारोतरफ अफरातफरी का माहौल बन गया। नार्थ अंबाझरी रोड यशवंत नगर व चंदन नगर में कई घरों में पानी घुस गया। निचले इलाकों में घुटने तक पानी जमा हो गया। वर्धा रोड, प्रताप नगर, मानेवाड़ा रोड, सोमलवाड़ा, बांग्लादेश, समता नगर में बारिश का पानी जमा होने से लोगों को भारी दिक्कतें हुईं। नेहरू नगर जोन के तहत कबीर नगर में पेड़ बिजली के तारों पर गिर गया, जिससे बिजली गुल हाे गई। एसएनडीएल ने एहतियात के तौर पर इलाके की विद्युत आपूर्ति बंद कर दी।

सड़क पर तालाब जैसा दृश्य
तेज बारिश से कई जगह तालाब जैसा दृश्य बन गया। बारिश से रात के तापमान में गिरावट आई। रात को मौसम ठंडा हो गया। रात 8.30 बजे तक 55.6 मिमि बारिश दर्ज की गई। शनिवार को नागपुर का अधिकतम तापमान 35.3 डिग्री दर्ज किया गया। रविवार को भी तापमान में इसी तरह की गिरावट रह सकती है। दमकल के सूत्रों ने बताया कि तेज बारिश के चलते कई जगह रास्ते पर पानी जमा हाे गया। रात तक पानी की निकासी की व्यवस्था जारी रही। रास्ते पर गिरे पेड़ों को हटा कर यातायात पूर्ववत किया गया। लोग घरों में घुसे पानी को मोटर लगाकर निकालने की कवायद करते रहे। जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है।

बारिश का पानी घरों में घुसने से अनाज बर्बाद
झमाझम बारिश से कई इलाकों में पानी घरों में घुसने से अनाज की बर्बादी होने की खबरें हैं। लाखों के नुकसान का दावा किया गया है। हालातों को देखते हुए विधायक प्रकाश गजभिये ने अनेक इलाकों में भेंट दी। पांढराबोड़ी, हिलटॉप, सेवानगर, सुदामनगरी, भिवसनखोरी, हजारी पहाड़ समेत अनेक इलाकों में वे पहुंचे। नागरिकों से मिलकर उनकी समस्या जानी। बारिश के कारण हुए नुकसान का निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि स्लम बस्तियों में घुटने तक पानी भर गया। लोगों के अनाज की बड़े पैमाने पर बर्बादी हुई है। गजभिये ने मनपा सत्तापक्ष-प्रशासन को इसके लिए जिम्मेदार बताते हुए नागरिकों की नुकसान भरपाई मनपा को देने की मांग की है।

शो के समय पंचशील टॉकीज में भगदड़
जोरदार बारिश ने जन-जीवन बड़े पैमाने पर प्रभावित किया है। इससे टॉकीज भी अछूता नहीं रहा। पंचशील टॉकीज में शाम 6.30 बजे  रजनीकांत की फिल्म ‘काला’ शुरू थी। भारी बारिश के कारण रात 8.30 बजे  पंचशील टॉकीज की छत पर पानी जमा हो गया। पानी निकासी की जगह ब्लॉक होने से पानी दीवार और आउटलेट के जरिये टॉकीज में घुस गया। इस दौरान पीओपी का टुकड़ा एक महिला पर गिर गया। ऐसे में महिला चीख उठी। लोगों को संदेह हुआ कि छत का कुछ हिस्सा  गिर गया है, जिससे पानी अंदर घुस रहा है। ऐसे में भगदड़ मच गई। थियेटर मालिक को जैसे ही इसकी जानकारी मिली। तुरंत फिल्म रुकवा दी गई और सारे दरवाजे खोल दिए गए। दर्शकों को सुरक्षित बाहर निकाला गया। थियेटर प्रशासन की ओर से राजन लहरिया ने कहा कि सभी दर्शक सुरक्षित हैं। उन्हें टिकट की राशि लौटा दी गई है। किसी तरह की छत नहीं गिरी और न कोई हादसा हुआ। थियेटर में पानी घुसने से लोग डर गए थे। फिलहाल रात के 9 बजे का शो भी बंद रखा गया है। सारी व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त करने के बाद अगला शो शुरू किया जाएगा।

कमेंट करें
EDsOy
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।