दैनिक भास्कर हिंदी: ऑनलाइन चल रही है दिव्यांग छात्रों की शिक्षा , घर भी जा रहे शिक्षक

July 31st, 2021

डिजिटल डेस्क,मुंबई।  राज्य सरकार ने बांबे हाईकोर्ट को सूचित  किया है कि दिव्यांग विद्यार्थियों को जूम एप अथवा गूगल मीट के माध्यम से ऑनलाईन शिक्षा प्रदान की जा रही है। जहां नेटवर्क की  समस्या  है  ऐसी जगहों पर शिक्षक घर जाकर दिव्यांग व मानसिक रुप से कमजोर विद्यार्थियों को शिक्षा प्रदान कर रहे हैं। 

साल 2021-22 शैक्षणिक वर्ष में दिव्यांग विद्यार्थियों की पढ़ाई  के लिए हर स्कूल में हर कक्षा के विद्यार्थियों  के लिए वाट्सएप ग्रूप बनाये गए हैं। जिसके माध्यम से ऑनलाइन क्लास चलाई जा रही है। पिछले साल भी मानसिक रुप से कमजोर विद्यार्थियों  के लिए ऐसी ही क्लास चलाई गई थी। अपंग आयुक्त कार्यालय के  एक अधिकारी ने हलफनामा दायर  कर कोर्ट को यह जानकारी दी है। हलफनामे के साथ ऑनलाइन शिक्षा के वीडियो व तस्वीरें भी जोड़ी गई है।  सरकार की  ओर से यह  हलफनामा कोर्ट  की ओर से आठ जुलाई 2021 को दिए गए आदेश के  तहत दायर किया गया है। 

हाईकोर्ट में मानसिक रुप से कमजोर, मूकबधिर, नेत्रहीनों व दिव्यांग विद्यार्थियों की शिक्षा को लेकर अनमप्रेम नामक गैर सरकारी संस्था की ओर से जनहित याचिका दायर की गई  है। याचिका में दावा किया गया  है  कि स्कूल बंद  होने  के चलते दिव्यांगों व मानसिक रुप से कमजोर विद्यार्थियों  को पढ़ाई में काफी दिक्कतें आ रही है। इसलिए राज्य  सरकार  को ऐसे विद्यार्थियों की शिक्षा  के विषय में उपयुक्त कदम उठाने का निर्देश दिया जाए। अधिवक्ता उदय वारुंजेकर के माध्यम  से दायर की गई इस याचिका पर  गौर करने और  वारुंजेकर की  दलीलों  को सुनने के बाद मुख्य न्यायाधीश दीपांकर दत्ता व न्यायमूर्ति गिरीष कुलकर्णी  की  खंडपीठ  ने सरकार दिव्यांग विद्यार्थियों  की शिक्षा को लेकर की गई  व्यवस्था  को लेकर हलफनामा दायर करने का निर्देश दिया था। जिसके तहत सरकार की ओर से यह हलफनामा दायर किया गया है।   
 

खबरें और भी हैं...