दैनिक भास्कर हिंदी: कर्मचारियों को नहीं मिले पोस्टल बैलेट, करना पड़ सकता है इंतजार

May 9th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। चुनाव ड्यूटी में लगे हजारों कर्मचारियों को पोस्टल बैलेट नहीं मिले हैं। इनके पोस्टल बैलेट कर्मचारियों के घर तक न पहुंचकर वापस कलेक्ट्रेट पहुंच रहे हैं। कर्मचारी कलेक्ट्रेट में आकर अपने-अपने पोस्टल बैलेट प्राप्त कर रहे हैं, जिन्हें पोस्टल बैलेट ढूंढ़ने से भी नहीं मिल रहे, उन्हें और कुछ दिन इंतजार करना पड़ेगा। 

नागपुर व रामटेक लाेकसभा चुनाव में 23 हजार कर्मचारी (मैनपॉवर) लगे थे। इनमें से कुछ प्रत्यक्ष व कुछ अप्रत्यक्ष चुनाव ड्यूटी में लगे थे। जो कर्मचारी अप्रत्यक्ष रूप से लगे थे, वे अपने बूथ पर जाकर मतदान कर सकते थे। जो प्रत्यक्ष चुनाव ड्यूटी में लगे थे, उन्हें पोस्टल बैलेट के सिवाय विकल्प नहीं था। जिला प्रशासन की तरफ से वोटिंग के पहले इनके घर के पते पर पोस्टल बैलेट भेजे गए थे। कई कर्मचारी घर बदल चुके हैं और कई कर्मचारियों के घर तक बैलेट पहुंचे नहीं।

वोटिंग के बाद हजारों कर्मचारियों को पोस्टल बैलेट नहीं मिलने की बात सामने आई। कई संगठनों ने इस पर नाराजी जताते हुए कर्मचारियों को पोस्टल बैलेट उपलब्ध कराने की मांग की थी। नागपुर मनपा के कई कर्मचारी तो जिला प्रशासन से मिलकर अपनी नाराजी जता चुके हैं। अब धीरे-धीरे पोस्टल बैलेट वापस जिलाधिकारी कार्यालय पहुंच रहे हैं। कर्मचारी, जिलाधीश कार्यालय जाकर अपने क्षेत्र के चुनाव अधिकारी से मिलकर पोस्टल बैलेट प्राप्त कर रहे हैं। कर्मचारी 23 मई तक वोट कर सकते हैं, इसलिए इन्हें वोटिंग के बाद भी पोस्टल बैलेट देने में कोई दिक्कत नहीं है। ऐसे भी कर्मचारी हैं, जिनके पोस्टल बैलेट अभी भी जिलाधीश कार्यालय में नहीं मिल रहे हैं। 

जिला प्रशासन का दावा है कि, जो बैलेट वापस कार्यालय आए, वे कर्मचारियों को दिए जा रहे हैं, जबकि कई पोस्टल बैलेट अभी भी पोस्ट ऑफिस में हो सकते हैं। कर्मचारी चाहें तो पोस्ट ऑफिस से संपर्क कर सकते हैं। या कुछ दिनों बाद यहां आकर संपर्क कर सकते हैं। इंटक के राजेश निंबालकर ने कहा कि पोस्टल बैलेट जल्द से जल्द कर्मचारियों को मिले, ऐसी व्यवस्था जिला प्रशासन की तरफ से होनी चाहिए।