दैनिक भास्कर हिंदी: महाराजबाग के बाघ और तेंदुए को दिया जा रहा इम्यूनिटी बूस्टर

May 12th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर । हैदराबाद में हाल ही में एक पार्क में शेरों के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद पूरे देश में जानवरों को कोरोना से बचाने की कोशिश की जा रही है। नागपुर के महाराजबाग में भी बाघ और तेंदुओं सहित सभी वन्यजीवों को संक्रमण से दूर रखने के लिए विभिन्न तरीके अपनाए जा रहे हैं। बाघ और तेंदुए को मांस के साथ इम्यूनिटी बूस्टर दिया जा रहा है। शाकाहारी वन्यजीवों को पाउडर व सिरप के माध्यम से मिनरल, विटामिन आदि दिए जा रहे हैं।

बरत रहे सतर्कता
नागपुर शहर का महाराजबाग हर किसी के लिए आकर्षण का केंद्र का है। लोगों के लिए यहां रहने वाले वन्यजीव खास हैं, लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण इसे बंद किया गया है। अभी तक वन्यजीवों में कोरोना का डर नहीं था, लेकिन हाल ही में हैदराबाद के नेहरू जूलॉजिकल पार्क में 8 एशियाई शेर कोरोना संक्रमित मिले। इसके बाद वन्यजीवों को लेकर सतर्कता बरती जा रही है। नागपुर के महाराजबाग में 2 बाघ, 5 तेंदुए, 3 भालू, 2 मगरमच्छ के अलावा शाकाहारी वन्यजीव बड़ी संख्या में हैं।
 
बढ़ा रहे रोग प्रतिरोधक क्षमता
बाघ को प्रतिदिन 10 किलो मांस और तेंदुए को 5 किलो मांस दिया जाता है। इम्यूनिटी बूस्टर के लिए उन्हें मांस के माध्यम से विटामिन दिया जा रहा है। इम्यूनिटी बढ़ाने वाले सिरप को इंजेक्शन में भरकर मांस में दिया जाता है। इसी तरह शाकाहारी वन्यजीवों को दूध आदि में मिलाकर इम्यूनिटी (रोग प्रतिरोधक क्षमता) बढ़ाने का पाउडर, गोलियां आदि दी जा रही हैं। इससे निश्चित तौर पर वन्यजीवों की इम्यूनिटी बढ़ रही है।

विशेष ध्यान दिया जा रहा है
जानवरों में कोरोना संक्रमण की बात को नकार नहीं सकते। ऐसे में हमारी ओर से महाराजबाग के सभी वन्यजीवों को अलग-अलग तरीके से इम्यूनिटी बूस्टर दिया जा रहा है। बाघ और तंेदुए पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। - डॉ. सुनील बावस्कर, प्रभारी, महाराजबाग नागपुर