जांच-पड़ताल: मनपा के स्टोर से नहीं मिले सबूत, एसीपी की टीम अभी खाली हाथ

December 22nd, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। मनपा के स्टेशनरी घोटाले में गिरफ्तार 4 लोगों से पूछताछ में मिली जानकारी के आधार पर पुलिस अब दस्तावेज खंगाल रही है। उसी के सिलसिले में सहायक पुलिस आयुक्त माधुरी बाविस्कर अपनी टीम के साथ महल स्थित मनपा के स्टोर में पहुंचीं थी। स्टेशनरी घोटाले से जुड़ी फाइलें यहां रखे जाने की जानकारी मिली थी। इन फाइलों पर लगे स्टैंप तथा हस्ताक्षर की जांच करने पर पुलिस की टीम गोदाम पहुंचने की सूत्रों ने जानकारी दी।

सामान्य प्रशासन के कब्जे में फाइलें
सूत्रों से पता चला कि स्टेशनरी घोटाले से जुड़ी फाइलें स्टोर में नहीं है। घोटाला सामने आने पर सामान्य प्रशासन विभाग ने अपने कब्जे में ले रखी है। इसलिए कोई ठोस सबूत पुलिस के हाथ नहीं लगे।

घोटाले के हर बिंदु पर पुलिस की नजर
स्टेशनरी घोटाले की शिकायत में फर्जी हस्ताक्षर किए बिल के आधार पर भुगतान किए जाने का आरोप है। शिकायत के आधार पर भुगतान लेने वाले दो सप्लायर तथा मनपा के दो कर्मचारियों को पुलिस ने दो दिन पूर्व गिरफ्तार किया है। शिकायत में लगाए आरोप तथा आरोपियों से पूछताछ में सामने आई जानकारी के आधार पर पुलिस घोटाले के हर बिंदु की जांच कर रही है। फाइलें स्टोर में रखे जाने की जानकारी के आधार पर पुलिस वहां पहुंची। 

बैठक छोड़ गोदाम की ओर दौड़े
एसीपी की टीम मंगलवार की शाम स्टोर रूम पहुंची। उस समय मनपा मुख्यालय में राष्ट्रीय नागरी स्वास्थ्य मिशन की बैठक चल रही थी। अतिरिक्त आयुक्त राम जोशी की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग के सभी आला अधिकारी मीटिंग में मौजूद थे। खबर लगने पर मीटिंग छोड़ अधिकारी वहां पहुंचे। हालांकि मनपा के आला अधिकारियों से संपर्क करने पर उन्होंने कुछ भी बोलने से इनकार किया। उन्होंने कहा कि गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में पुलिस को जो जानकारी मिली, उसके आधार पर पुलिस अपना काम कर रही है।