comScore

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के सम्मान में करानी पड़ रही परीक्षा : सामंत

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के सम्मान में करानी पड़ रही परीक्षा : सामंत

डिजिटल डेस्क, नागपुर। राज्य उच्च शिक्षा मंत्री उदय सामंत ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के अंतिम वर्ष की परीक्षा लेने के आदेश का पालन करते हुए राज्य सरकार परीक्षा आयोजित कर रही है। करीब 90% विद्यार्थी परीक्षा देने के लिए तैयार हैं। ऐसे वक्त मंे विद्यार्थी सकारात्मक मानसिकता के साथ परीक्षा दें। उन्होंने सोमवार को राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय की परीक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। शाम को पत्रकार वार्ता में उदय सामंत ने उच्च शिक्षा विभाग की भूमिका पर प्रकाश डाला। 

स्वास्थ्य खतरे में डालना ठीक नहीं
सामंत ने कहा कि अब भी वह चाहते हैं कि परीक्षाएं न हों, लेकिन सर्वोच्च न्यायालय के सम्मान में कराई जा रही हैं। जेईई व नीट जैसी परीक्षा की तुलना में विवि की परीक्षा को महज एक औपचारिकता बता रहे एक वर्ग को उत्तर देते हुए उन्होंने कहा- जेईई व नीट एक दिन की परीक्षा होती है। विवि की परीक्षा कई दिनों तक चलती हैं। ऐसे में विद्यार्थियों को केंद्रों पर बुला कर उनके स्वास्थ्य को खतरे में डालना सही नहीं है। ऑफलाइन परीक्षा कराने में ज्यादा मैनपावर लगता है, जिससे कोरोना संक्रमण का खतरा होता है। ऐसे में ऑनलाइन परीक्षा का विकल्प ही सुरक्षित उपाय है।

1882 विषयों की परीक्षा
पत्रकार वार्ता के पूर्व अमरावती रोड स्थित जमनालाल बजाज प्रशासकीय परिसर में हुई बैठक में परीक्षा नियंत्रक डॉ. प्रफुल्ल साबले ने प्रस्तुतिकरण दिया। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय आगामी कुछ दिनों में अंतिम सेमेस्टर के 1882 विषयों की परीक्षा लेगा। 77925 विद्यार्थी शामिल होंगे। यह परीक्षा ऑनलाइन होगी, जिसमें विद्यार्थियों से बहुवैकल्पिक प्रश्न पूछे जाएंगे। बैठक में  विवि कुलगुरु डॉ. सुभाष चौधरी, विधायक दुष्यंत चतुर्वेदी व पूर्व विधायक प्रकाश गजभिए उपस्थित थे। 

कमेंट करें
YCjE5