दुर्घटना: दिवाली का पकवान बनाते समय गैस सिलेंडर में धमाका, बुझ गया ‘कुल दीप’

November 2nd, 2021

 डिजिटल डेस्क, नागपुर।  दिवाली का पकवान बनाते वक्त एक परिवार का चिराग हमेशा के लिए बुझ गया। मृत बालक कुलदीप मनोज सिंह राजपूत (13)सिविल लाइन्स स्थित सीपीडब्लूडी, कालोनी तीसरा माला निवासी था।  

काश मान लेता नानी की बात
दिवाली उत्सव के लिए सोमवार की दोपहर करीब साढ़े बारह बजे के दौरान सुषमा गोपाल सिंह कश्यप (60) और उनकी बहू आराधना श्याम सिंह कश्यप (27) पकवान बना रही थीं। कुलदीप नानी सुषमा और मामी आराधना को परेशान कर रहा था। बार-बार सिलेंडर का पाइप खींच रहा था। उनके मना करने पर भी सुन नहीं रहा था। इस बीच आराधना अपने पुत्र अर्थव (2) को बाथरूम कराने चली गई। इधर, कुलदीप के खींचने से गैस का पाइप निकल गया और आग भड़क गई। चपेट में आने से कुलदीप बुरी तरह से झुलस गया। उसे बचाने के चक्कर में सुषमा का हाथ बुरी तरह  झुलस गया।  

अनाज, कपड़े और अन्य घरेलू सामान बर्बाद
चीख-पुकार सुनकर दीपक चौधरी नामक व्यक्ति ने हादसे की सूचना दमकल को दी। मौके पर सदर थाने के वरिष्ठ निरीक्षक विनोद चौधरी, सहायक निरीक्षक गुरनुले, प्रमोद दिघोरे, गिट्टीखदान थाने के वरिष्ठ निरीक्षक गजानन कल्याणकर और दमकलकर्मी पहुंचे थे। कड़ी मशक्कत के बाद दमकल कर्मियों ने हादसे पर काबू पाया।  हादसे में अनाज, कपड़े और अन्य घरेलू सामान जल गए हैं।

3 तारीख को आने वाली थी मां
कुलदीप कक्षा 8 में अध्ययनरत था। जब वह एक डेढ़ वर्ष का था, तभी उसके माता-पिता अलग हो गए। वह रायपुर में रहते हैं। इस कारण जब कुलदीप दो वर्ष का था, तभी से उसकी देखभाल उसकी नानी सुषमा और मामा श्यामसिंह कर रहे थे। कुलदीप से मिलने उसकी मां आती रहती है।  3 नवंबर को उसकी मां आने वाली थी, लेकिन इधर होनी को कुछ और ही मंजूर था।