comScore

UP: प्रियंका गांधी ने मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत में कहा- '90 दिनों में 215 किसान शहीद हुए'

UP: प्रियंका गांधी ने मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत में कहा- '90 दिनों में 215 किसान शहीद हुए'

डिजिटल डेस्क (भोपाल)। तीन कृषि कानूनों के विरोध में अब कांग्रेस खुलकर किसानों के समर्थन में रैलियां कर रही है। यूपी के अलग-अलग शहरों में जाकर किसानों के मुद्दों पर सरकार को घेर रहीं प्रियंका गांधी वाड्रा शनिवार को मुजफ्फरनगर के बघरा गांव पहुंची। यहां उन्होंने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि, 90 दिनों से लाखों किसान बॉर्डर पर शांति से बैठकर संघर्ष कर रहे हैं, 215 किसान शहीद हुए। बॉर्डर को ऐसा बनाया गया जैसे देश की सीमा हो। किसानों को देशद्रोही, आतंकवादी, परजीवी, आंदोलनजीवी कहा गया। मेरा मनाना है कि हमारे देश का हृदय किसान है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार किसानों के आंसू नहीं पोछ पाई, क्योंकि उनकी राजनीति सिर्फ अपनी राजनीति चमकाने के लिए है। वह सिर्फ अपने कुछ चुनिंदा बिजनेसमैन को फायदा पहुंचाना चाहते हैं।

प्रियंका गांधी तीन नए कृषि कानून के विरोध को भुना कर अपनी सियासी जमीन मजबूत कर ही है। इससे पहले प्रियंका गांधी यूपी के सहारनपुर और बिजनौर में हुई किसान महापंचायत में शामिल हो चुकी हैं। स्वामी कल्याणदेव डिग्री कालेज में आज हुई किसान महापंचायत में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं प्रदेश प्रभारी प्रियंका वाड्रा ने कृषि कानूनों का विरोध किया। गाजीपुर बॉर्डर पर कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग पर धरने पर बैठे भाकियू नेताओं के बाद अब मुजफ्फरनगर में भी किसानों की महापंचायतों का दौर शुरू हो चुका है। जिलाध्यक्ष सुबोध शर्मा के अनुसार महापंचायत में मुख्य वक्ता प्रियंका वाड्रा 1 बजे पहुंच गई थी, लेकिन विभिन्न गांवों से बसों व ट्रैक्टर-ट्रालियों से किसान सुबह से ही मैदान में पहुंचने शुरू हो गए थे। वाहनों की पार्किं ग और पंचायत स्थल पर किसानों व आम आदमियों के बैठने की व्यवस्था एक दिन पूर्व पूरी कर ली गई थी।

ज्ञात हो यूपी में अभी सत्ता का सेमीफाइनल माने जाने वाला पंचायत चुनाव प्रस्तावित है। इसके बाद 2022 में विधानसभा चुनाव होने है। ऐसे में कांग्रेस तीन नए कृषि कानूनों के विरोध को भुना कर अपनी सियासी जमीन मजबूत कर ही है। प्रियंका यूपी में काफी एक्टिव नजर आ रही हैं। सहारनपुर में शाकुंभरी देवी के दर्शन और प्रयागराज में संगम में डुबकी के जरिए वो लोगों से जुड़ रही हैं। किसान आंदोलन को लेकर वह लगातार सरकार पर हमलावर हैं। फरवरी में अब तक प्रियंका 4 बार उत्तर प्रदेश का दौरा कर चुकी हैं।

कमेंट करें
aZsUi