दैनिक भास्कर हिंदी: फलों और सब्जियों में अनावश्यक कीटनाशकों का उपयोग न करें किसान : कृषि मंत्री फुंडकर

May 27th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रदेश के किसान फलों और सब्जियों में अनावश्यक कीटनाशकों और हार्मोन का उपयोग न करें। प्रदेश के कृषि मंत्री पांडुरंग फुंडकर ने किसानों से यह अपील की है। प्रदेश सरकार ने केंद्रीय कृषि मंत्रालय से प्राप्त रिपोर्ट के आधार पर किसानों को सावधानी बरतने को कहा है।

रविवार को फुंडकर ने कहा कि कोल्हापुर के शिरोल तहसील में जांभली गांव से हरी मिर्च का निर्यात किया जाता है। निर्यात की जाने वाली हरी मिर्च के नमूने लिए गए थे, जिसमें फेंप्रोपैथीन कीटनाशक के अंश का प्रमाण पाया गया। केंद्रीय कृषि मंत्रालय के रिपोर्ट में इसका उल्लेख है। इसके मद्देनजर कृषि मंत्री ने कहा कि फलों और सब्जियों में ऑक्सीटोसिन जैसे हार्मोन और मोनोक्रोटोफॉस कीटनाशक का अनावश्यक इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

कृषि मंत्री ने कहा, 'फसलों में कीटनाशकों और हार्मोन का ज्यादा उपयोग से मानव के स्वास्थ्य पर खतरा पैदा हो सकता है। इसके साथ ही कैंसर के रोग की संभावनाएं हो सकती है।' फुंडकर ने कहा कि राज्य में फलों और सब्जियों का निर्यात करते समय उसका दर्जा बरकरार रखना जरूरी है। यदि ऐसा नहीं किया गया तो आयात करने वाले देश हमारे यहां के फलों और सब्जियों को लेने पर प्रतिबंध लगा सकता है।