comScore

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव: हिंसक माेड़ पर पहुंची राजनीति, फुके-पटोले के बीच घमासान

October 19th, 2019 16:03 IST
महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव: हिंसक माेड़ पर पहुंची राजनीति, फुके-पटोले के बीच घमासान

डिजिटल डेस्क,नागपुर। विधानसभा चुनाव में विदर्भ में सबसे चर्चित साकोली क्षेत्र में चुनाव हिंसक मोड़ पर पहुंच गया है। चुनाव प्रचार थमने के एक दिन पहले भाजपा उम्मीदवार परिणय फुके व कांग्रेस उम्मीदवार नाना पटोले के समर्थकों में झड़प हुई। दोनों पक्ष ने पुलिस से शिकायत की है। फुके समर्थकों का आरोप है कि पटोले के समर्थकों ने फुके के छोटे भाई नितीन फुके का अपहरण कर मारपीट की। वहीं पटोले के समर्थकों की शिकायत है कि पटोले के भतीजे जीतेंद्र पटोले पर हमला किया गया। फिलहाल जीतेंद्र अस्पताल में भर्ती है। साकोली पुलिस ने दोनों पक्ष की शिकायत दर्ज की है। परिणय फुके के समर्थकों के अनुसार नितीन फुके प्रकाश पर्व पोस्ट आफिस साकोली परिसर में पैदल घूम रहे थे।

नितीन भाजपा के चुनाव प्रचार में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी भी संभाल रहे हैं। पटोले के भतीजे ने अन्य समर्थकों के साथ मिलकर नितीन को पकड़ा। उसे धमकाकर कार में ठूंसा। बाद में नाना पटोले के प्रचार कार्यालय में ले जाकर नितीन की पिटाई की गई। इस बीच फुके समर्थकों ने बीचबचाव करके नितीन को बचाया। यह भी आरोप है कि भाजपा उम्मीदवार परिणय फुके के अपहरण की योजना थी। नितीन का अपहरण परिणय समझकर किया गया। उधर पटोले समर्थकों का कहना है कि भाजपा उम्मीदवार के लिए रुपए व शराब बांटी जा रही थी। नितीन के पास रुपयों के पैकेट थे। उसे रुपये बांटने से रोका गया तो उसने अन्य कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर हमला कर दिया। पटोले के भतीजे जीतेंद्र को गंभीर चोट आयी है। साकोली पुलिस मामले की जांच कर रही है।
 
कौन हैं परिणय फुके

भाजपा उम्मीदवार परिणय फुके भंडारा व गोंदिया जिले के पालकमंत्री भी हैं। नागपुर मनपा में निर्दलीय नगरसेवक रहे हैं। 2017 के मनपा चुनाव में भी वे चर्चा में आए थे। घनश्याम चौधरी नामक भाजपा कार्यकर्ता की पिटाई के आरोप फुके व उनके समर्थकों पर लगे थे। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के करीबी कार्यकर्ता के तौर पर वे पहचाने जाते हैं। उनके समर्थन में 14 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा साकोली में हुई थी।
 
कौन हैं पटोले

कांग्रेस उम्मीदवार नाना पटोले अखिल भारतीय कांग्रेस किसान मोर्चा की अध्यक्ष भी हैं। राज्य में कांग्रेस के विधानसभा चुनाव प्रचार प्रमुख हैं। भंडारा गोंदिया से सांसद रहे हैं। इसी साल नागपुर लोकसभा चुनाव में वे कांग्रेस उम्मीदवार थे। उनका मुकाबला भाजपा उम्मीदवार नितीन गडकरी से हुआ था।
 
नकद जब्त

साकोली पुलिस ने भाजपा उम्मीदवार परिणय फुके के समर्थक से 217 लिफामों में रखे 17,74,600 रुपए बरामद किए है। परिणय फुके, दीपक लोहिया सहित 30 के विरुद्ध धारा 171 ब, 143,147,148,149,325,324 के तहत प्रकरण दर्ज किया है। पटोले समर्थकों के विरुद्ध धारा 363,147,148,149,323,506 भादंवि के तहत प्रकरण दर्ज किया है। पुलिस अधीक्षक अरविंद सालवे के मार्गदर्शन में पुलिस निरीक्षक बंडोपंत बंसोडे प्रकरण् की जांच कर रहे हैं। 

कमेंट करें
6PVSy