दैनिक भास्कर हिंदी: ध्वनि प्रदूषण के मामले में 202 गणेश मंडलों  के खिलाफ दर्ज हुई FIR

September 25th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। मुंबई पुलिस ने भी गणेशोत्सव के दौरान ध्वनि प्रदूषण फैलाने वाले मंडलों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है। इस साल महानगर में कुल 202 गणेश मंडलों के खिलाफ तेज आवाज में डीजे और लाउड स्पीकर बजाकर ध्वनि प्रदूषण फैलाने के आरोप में FIR दर्ज की गई है। वहीं सोमवार को लालबाग के राजा के विसर्जन के दौरान समुद्र में नाम पलटने से पांच लोग जख्मी हो गए जिनमें से एक को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है।

मुंबई पुलिस के प्रवक्ता डीसीपी मंजूनाथ सिंगे ने बताया कि गणेशोत्सव के दौरान हमें मंडलों और आम मुंबईकरों से पूरा सहयोग मिला लेकिन कुछ जगह कानून के उल्लंघन के मामले सामने आए। महानगर के विभिन्न पुलिस स्टेशनों में ध्वनि प्रदूषण के आरोप में 202 मामले दर्ज किए गए हैं। सभी मामलों की जांच जारी है। बता दें कि 100 डेसिबल से ज्यादा आवाज होने पर ध्वनि प्रदूषण माना जाता है।

विसर्जन के दौरान पलटी नाव

लालबाग के राजा की सवारी सोमवार सुबह 21 घंटों की शोभा यात्रा के बाद गिरगांव चौपाटी पर पहुंची जहां बाप्पा का विर्सजन किया गया। हालांकि विसर्जन के दौरान समुद्र में लोगों से भरी एक नाव पलट गई। मौके पर मौजूद पुलिस और दमकल के जवानों ने तुरंत नाव से गिरे लोगों को सुरक्षित बचा लिया। हालांकि हादसे में पांच लोग जख्मी हो गए जिसमें एक पांच साल की बच्ची भी शामिल है। अनीता नाम की एक 16 वर्षीय युवती को नायर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं शोभा यात्रा के दौरान बड़ी संख्या में लोगों के मोबाइल, पर्स और दूसरे कीमती सामान चोरी होनी की भी घटनाएं हुईं हैं।   

41 हजार से ज्यादा मूर्तियों का विसर्जन

गणेशोत्सव के आखिरी दिन मुंबई में 41828 मूर्तियों का विसर्जन किया गया। इनमें से 7172 सार्वजनिक, 34484 घरेलू, 172 गौरी की मूर्तियां थीं। बीएमसी के आंकड़ों के मुताबिक साल 2017 में पूरे उत्सव के दौरान 2 लाख 2 हजार 352 गणेश मूर्तियों का विसर्जन किया गया था। इनमें 11098 सार्वजनिक गणेश मूर्तियां थीं। 
 

खबरें और भी हैं...