दैनिक भास्कर हिंदी: मैहर के शारदा मंदिर के पास जंगल में आग, कई वाहन जलकर हुए खाक

May 29th, 2018

डिजिटल डेस्क, सतना। सतना जिले में स्थित पवित्र नगर मैहर में तब हडकंप मच गया जब रोप-वे के पास झाड़ियों में लगी आग की चपेट में आकर जबलपुर के दर्शनार्थियों की इनोवा समेत 3 गाड़ियां धूं-धूं कर जल उठीं। इस घटना से देवी जी क्षेत्र में हड़कंप मच गया। लगभग ढाई घंटे की जद्दोजहद के बाद आग पर काबू पाया जा सका, तब तक तीन वाहन पूरी तरह नष्ट हो चुके थे। गनीमत रही कि हादसे में किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक आज आम दिनों की अपेक्षा मंदिर में दर्शनार्थियों की संख्या अधिक थी। दूर-दूर से लोग अपने-अपने वाहनों से भी पहुंचे थे, जिसके चलते रोप-वे की पार्किंग फुल हो गई। लिहाजा पार्किंग के गार्ड ने 8 बजे के बाद गाड़ियां अंदर नहीं ली, बल्कि रसीद बनाने के बाद रोप-वे पार्किंग के बाहर रामपुर पाठा रोड पर वन क्षेत्र में गाड़ियां खड़ी करा दी। जहां तकरीबन 11 बजे गन्ने के छिलकों व कचरे के ढेर में अचानक आग लग गई। देखते ही देखते हवा के साथ आग बढ़ते-बढ़ते वाहनों तक पहुंच गई, तब जाकर लोगों की नजर गई, जिससे वहां हड़कंप मच गया। स्थानीय लोगों ने डायल 100 के साथ फायर ब्रिगेड को फोन किया, पर जब तक दमकल पहुंचा, तब तक इनोवा कार के अलावा टाटा मैजिक व टाटा विंगर गाड़ियां लपटों से घिर चुकी थीं।

एक दमकल को लगाने पड़े दो चक्कर
लगभग 45 डिग्री तापमान में 10 फिट से ऊपर उठ रही आग की लपटों पर काबू पाने में दमकल कर्मियों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। हालात इतने विपरीत हो गए थे कि आधे घंटे में टैंकर का पूरा पानी खत्म हो गया। लिहाजा बचाव कार्य बीच में छोड़कर पानी भरने जाना पड़ा। कुछ देर बाद दमकल वाहन वापस आया और पानी की बौछार करते हुए फैल रही आग को काबू कर लिया। इस पूरी कवायद में ढाई घंटे का समय लग गया। दोपहर डेढ़ बजे आग के खतरे को टाला जा सका।

 

 

इनके वाहन हुए खाक
आगजनी में आधारताल जबलपुर के निर्मलचन्द्र जैन वार्ड निवासी राजेश कुमार पटेल पुत्र चंद्रिका प्रसाद की इनोवा कार क्रमांक एमपी-20सीसी-2763 खाक हो गई। वह परिवार और ड्राइवर नंदू मिश्रा पुत्र जीवनलाल के साथ सोमवार सुबह 8 बजे मैहर पहुंचे थे। उन्होंने ही घटना की शिकायत मैहर थाने में दर्ज कराई। गाड़ी के साथ-साथ उसमें रखा सामान भी नष्ट हो गया। 

नई टाटा मैजिक नष्ट
वहीं रीवा जिले के सिरमौर थाना अंतर्गत इटौरा निवासी रामधनी कोरी पुत्र छोटेलाल 40 वर्ष ने नई टाटा मैजिक गाड़ी खरीदी थी, जिसकी पूजा कराने व भंडारे के लिए परिवार के दो दर्जन सदस्यों को लेकर देवी धाम पहुंचे थे। सभी लोग नीचे गाड़ी खड़ी कर दर्शन करने चले गए, वापस आकर उन्हें भंडारा करना था, लेकिन आग की लपटों ने नई गाड़ी तो जला ही डाली, साथ ही उसमें रखा राशन, कपड़े, बर्तन नष्ट कर दिए। इस घटना से कोरी परिवार सदमे में आ गया। उनकी स्थिति देखकर स्थानीय समाजसेवियों ने हिम्मत बंधाई और अन्नकूट परिसर में लेजाकर भोजन कराने के बाद वापस जाने में भी मदद की। इसी घटना में एक टाटा विंगर गाड़ी भी जल गई। 

नहीं थे पुख्ता इंतजाम
देश के प्रमुख तीर्थस्थलों में शुमार मां शारदा शक्तिपीठ हर साल करोड़ों का चढ़ावा आता है। मंदिर क्षेत्र की व्यवस्था के लिए एसडीएम मैहर की अध्यक्षता में प्रबंध समिति बनाई गई है, लेकिन तमाम खर्चे के बावजूद सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम नहीं हैं। अग्निशमन यंत्र तो हैं पर उनका इस्तेमाल करने का हुनर एक-दो लोगों को ही पता है। दमकल वाहन के लिए नगर पालिका या फैक्ट्रियों के भरोसे रहते हैं। उधर वन अमले के पास भी कोई व्यवस्था नहीं है तो दर्शनार्थियों से ही मोटी कमाई करने वाले रोप-वे प्रबंधन के पास भी आग जैसी आपदा से निपटने के लिए किसी प्रकार के इंतजाम नहीं हैं। ऐसे हालातों में कभी भी कोई बड़ी घटना हो सकती है। फिलहाल आग लगने की वजह अज्ञात बनी हुई है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

इनका कहना है
गाड़ियां खड़ी थी, जिनमें आग लगने की सूचना पर फायर ब्रिगेड को भेजा गया था। फिलहाल घटना की वजह पता नहीं चली है। शिकायत मिलने पर जांच कराई जाएगी। 
सुरेश अग्रवाल, एसडीएम व प्रशासक शारदा प्रबंध समिति मैहर