पुराने लेन-देन में: पूर्व नगराध्यक्ष के पति भास्कर इथापे ने हत्या कर शव को कुएं में फेंका

October 14th, 2021

डिजिटल डेस्क, वर्धा।  रोठा परिसर के तालाब के गेज चेंबर के कुएं में हत्या कर शव फेंकने के मामले में पूर्व नगराध्याक्ष सुनीता इथापे के पति व समाजसेवक भास्कर इथापे समेत दो लोगों ने पूछताछ करने पर  हत्या करने का अपराध कबूल किया है । अदालत ने आरोपियों को 7 दिन की पुलिस कस्टडी दी है। ऐसी जानकारी पुलिस अधीक्षक प्रशांत होलकर ने पुलिस अधीक्षक कार्यलय में हुई पत्र परिषद में दी।

पुलिस अधीक्षक कार्यालय में पत्र परिषद में पुलिस अधीक्षक प्रशांत होलकर ने बताया कि वसंत चोखोबाजी हातमोडे (65) निवासी पलोती  बीते मंगलवार 5 अक्टूबर की सुबह 9 बजे से लापता थे। सोमवार 11 अक्टूबर को वसंत हातमोड़े का शव शहर समीप रोठा परिसर के तालाब के गेज चेंबर के कुएं में सीमेंट के पोल से बंधे स्थिति में नागिरकों को दिखाई दिया था। बेटे नीलेश ने शिनाख्त कर शव पिता का होने का बताया। नीलेश हातमोडे की शिकायत पर संदेह के आधार पर पूर्व नगराध्याक्ष सुनीता इथापे के पति व समाजसेवक भास्कर इथापे और दो साथियों के खिलाफ सावंगी पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया।

प्रस्तुत अपराध सावंगी पुलिस थाना द्वारा स्थानीय अपराध शाखा के तरफ आने पर पुलिस ने संदेह के आधार पर भास्कर दादाराव इथापे (59) निवासी सिंदी मेघे, विलास मून (55) निवासी वर्धा व दिलीप नारायण लोखंडे (61) निवासी नागठाणा को हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर पुराने आर्थिक कारणों से 2019 से कोर्ट में चल रहे 420 के मुकदमे के चलते वसंत हातमोडे की हत्या कर सबूत नष्ट करने की बात कबूल की। 


पुलिस ने अदालत के सामने सबूत पेश करने पर अदालत से 3 आरोपियों को 7 दिन का पीसीअार दिया है। उक्त  कार्रवाई पुलिस अधीक्षक प्रशांत होलकर, अपर पुलिस अधीक्षक यशवंत सोलंके के मार्गदर्शन में वर्धा उपविभागीय पुलिस अधिकारी पीयूष जगताप, सावंगी के पीआई बाबासाहेब थोरात, स्थानीय अपराध शाखा के पीआई  गायकवाड, सहायक पुलिस निरीक्षक महेंद्र इंगले, पीएसआई सौरभ घरडे, पीएसआई गोपाल ढोले व स्थानीय अपराध शाखा सावंगी व साइबर शाखा द्वारा की गई है।