दैनिक भास्कर हिंदी: स्कूली छात्रा के साथ गैंगरेप मामले में 4 और गिरफ्तार, आरोपियों में चार नाबालिग

October 12th, 2018

डिजिटल डेस्क, यवतमाल। आर्णी में नाबालिग के साथ गैंगरेप मामले में 4 और आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया गया है। कुल 6 आरोपियों में से 4 नाबालिग हैं। चारों को बाल सुधार गृह भेज दिया गया है। इस मामले में आरोपियों की संख्या बढ़कर पांच हो गई है। गैंगरेप के बाद वीडियो वायरल करने की धमकी के बाद सैंकड़ों लोग पीड़ित परिवार के साथ खड़े हो गए। गुरुवार को महिलाओं ने मोर्चा निकाला था। इससे पहले गुस्साए लोगों ने गुरुवार सुबह चक्काजाम किया और टायर जलाए। प्रदर्शनकारियों ने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए नायब तहसीलदार आर बी मांडेकर को ज्ञापन सौंपा था। इस दौरान बंद का आहवान किया गया था। जो पूरी तरह सफल रहा। सभी प्रतिष्ठान, स्कूल, महाविद्यालय बंद रखे गए थे। प्रदर्शनकारियों ने कहा था, जब तक आरोपी गिरफ्तार नहीं होते, वे आंदोलन जारी रखेंगे।

लोगों का गुस्सा देखकर पुलिस ने मोर्चा संभाल लिया। सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए। हालांकि शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस नेे मामले को लेकर मीडिया से दूरी बनाए रखी, लेकिन काफी देर तक खबर दबाई नहीं जा सकी। जानकारी मिलते ही 200 से ज्यादा लोग बुधवार रात थाने पहुंच गए थे। जहां उन्होंने आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की थी। जब मामले में पुलिस कुछ कर नहीं सकी, तो गुस्साए लोगों ने बंद का ऐलान कर दिया था।लोगों ने आरोपियों को फांसी की सजा देने की मांग की। दो आरोपियों के सलाखों के पीछे भेज दिया गया था।  

क्या है मामला...
13 साल की स्कूली छात्रा को 6 महीने पहले बेहोशी की दवा खिलाई गई। इसके बाद उसके साथ गैंगरेप किया गया। बेहोशी की दवा चॉकलेट में डालकर दी थी। लड़की के बेहोश होते ही, आरोपियों ने उसका अश्लील वीडियो बनाया था। इसके बाद से उसे धमकियां दी जा रही थी। मासूम को पिछले 6 महीने से लगातार ब्लैकमेल कर शोषण किया गया। इसके बाद जब डरी सहमी लड़की ने 7 अक्टूबर को अपने पिता को मामले की जानकारी दी, तो परिजन उसे लेकर थाने पहुंचे। उधर जैसे ही आरोपियों को इसकी खबर लगी, उन्होंने लड़की और उसके परिजन को धमकाना शुरु कर दिया।

लड़की का वीडियो वायरल करने की धमकियां दी गई, लेकिन जैसे ही खबर आग की तरह फैली, लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। जिसके बाद पुलिस ने भी मामले में छानबीन शुरु कर दी थी। दारव्हा डीवाईएसपी डॉ निलेश पांड ने मामले की जांच की। पहले पकड़े गए आरोपियों में शेख सोहेल की उम्र 20 साल है, दूसरा आरोपी नाबालिग है। दोनों मुबारक नगर के निवासी हैं। फरार आरोपियों की तलाश शुरु कर दी गई। पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। चार और आरोपियों पर शिकंजा कसने के बाद संख्या छह हो गई।

खबरें और भी हैं...