दैनिक भास्कर हिंदी: मनपा स्कूल के बच्चों के लिए आपली बस फ्री

February 13th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर ।  मनपा स्कूलों के विद्यार्थियों को स्कूल से घर तक आने-जाने के लिए आपली बस सेवा अब फ्री में रहेग।  साथ ही मनपा ने बजट में शिक्षा के लिए 20 फीसदी निधि का प्रावधान करने का भरोसा दिया है। इसके अलावा स्कूलों को डिजिटल करने व सुधार व गुणवत्ता के लिए पायलट प्रोजेक्ट चलाने का भी दावा किया है। 

आप के आंदोलन का असर
आम आदमी पार्टी (आप) ने मनपा स्कूलों में सुधार के लिए 26 जनवरी से संविधान चौक पर आंदोलन शुरू किया था। 4 फरवरी से आप के दीपक साने ने आमरण अनशन शुरू किया था। उनके स्वास्थ्य में लगातार गिरावट आ रही थी। अंतत: मनपा शिक्षा विभाग ने प्रतिनिधि भेजकर मांगों पर सकारात्मक विचार करने का भरोसा दिया। आंदोलनकारियों ने बजट में शिक्षा पर 20 फीसदी निधि रखने, डिजिटल स्कूल, पायलट प्रोजेक्ट चलाने, मनपा स्कूलों को निजी हाथों में नहीं सौंपने की मांग की थी। आखिरकार मनपा प्रशासन 11 फरवरी की रात को मनपा उपायुक्त व शिक्षणाधिकारी की अगुवाई में अनशनस्थल पर पहुंचा और संबंधित मांगों को शासन के पास भेजने का पत्र दिया। साथ ही बजट में 20 फीसदी निधि का भरोसा दिया। 

इन्होंने कहा- आम आदमी की जीत
आप के एड. अरविंद वाघमारे, दीपक साने, राजेश पौनिकर व निखिल गणेर ने इसे आम आदमी की जीत बताते हुए उम्मीद जताई कि शीघ्र ही मनपा स्कूलों व शिक्षा में सुधार होगा। 

इन घोषणाओं के बाद अनशन खत्म
इसी क्रम में मनपा स्कूलों में विद्यार्थियों की संख्या बढ़ाने के लिए मनपा स्कूली बच्चों को घर से स्कूल तक आपली बस फ्री कर दी गई। जिन स्कूलों तक आपली बस नहीं पहुंचती, वहां तक भी उसे दौड़ाने का दावा किया, ताकि मनपा के बच्चे बस से वंचित न रहे। सीबीएसई की तर्ज पर स्कूल शुरू करने के संबंध में शासन स्तर पर प्रयास करने का भरोसा दिया। 60 अत्याधुनिक शालाएं इसी सत्र से शुरू की जाएगी। इसके बाद पिछले 8 दिन से आमरण अनशन पर बैठे दीपक साने ने अनशन खत्म किया। 
 

खबरें और भी हैं...