comScore

बाइक पर बिहार से नागपुर ला रहे थे गांजा, पकड़े गए

बाइक पर बिहार से नागपुर ला रहे थे गांजा, पकड़े गए

डिजिटल डेस्क, नागपुर। पटना बिहार से बाइक पर गांजा लाने वाले दो आरोपियों को मानकापुर पुलिस ने धर-दबोचा। आरोपियों के नाम शेख अंसार शेख इजराइल और दीपेश हजारीलाल कासडेकर है। दोनों आरोपियों से 20 किलो 770 ग्राम गांजा जब्त किया गया है। दोनों आरोपी अमरावती जिले के धारणी निवासी हैं। दोनों धारणी के एक गांजा तस्कर के लिए काम करते हैं। गांजा तस्कर के बारे में पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है। पुलिस उपायुक्त विनीता साहू के मार्गदर्शन में मानकापुर के वरिष्ठ थानेदार गणेश ठाकरे व सहयाेगियों ने कार्रवाई की। 

सूचना पर कार्रवाई 
पुलिस सूत्रों के अनुसार, मानकापुर पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि मानकापुर गोरेवाड़ा रिंग के पास गंगानगर झोपड़पट्टी के पास गांधी ले-आउट में नाले के करीब एक मकान में गांजा छिपाकर रखा गया है। पुलिस ने इस मकान पर 21 जुलाई को छापा मारा। पुलिस को बाथरूम के अंदर दो प्लास्टिक की थैली के अंदर टेप पट्टी में लगभग 20 किलो 770 ग्राम गांजा मिला। पुलिस ने दोनों थैली के अंदर पैकबंद पार्सल से करीब 3 लाख 11 हजार 550 रुपए का माल जब्त किया। यह गांजा आरोपी शेख अंसार (35) नेहरूनगर (वार्ड नंबर-14 ईदगाह मस्जिद के पीछे, धारणी, अमरावती) और दीपेश कासडेकर (23) कलावती नगर (धारणी, अमरावती) पटना से गांजा खरीदकर बाइक से नागपुर पहुंचे थे। नागपुर के मानकापुर क्षेत्र में आरोपी शेख अंसार की सौतेली बहन रहती है। शेख अंसार और मित्र दीपक के पास पेट्रोल के पैसे खत्म हो गए थे। बहन के यहां कुछ पैसे के जुगाड़ में रुके तो पुलिस को भनक लग गई। मानकापुर पुलिस ने दोनों आरोपियों से उक्त माल जब्त किया।

एक बार आने-जाने का 10 हजार मिलता है
दोनों ने बताया कि बिहार में गांजा सस्ता मिलता है। धारणी का गांजा तस्कर एक बार बिहार आने-जाने के लिए 10 हजार रुपए देता है। आश्चर्य यह है कि दोनों बाइक से 1200 से किलोमीटर से भी अधिक दूरी तय करके नागपुर पहुंचे, लेकिन रास्ते में कहीं भी पुलिस पकड़ नहीं पाई। करीब चार राज्यों की सीमा पार करके यह नागपुर पहुंचे थे। दोनों आरोपियों के खिलाफ मानकापुर पुलिस ने धारा 20, 29 के तहत मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया है।

कमेंट करें
oyKSP