मांग: रत्नागिरी के रिफाइनरी पेट्रोकेमिकल प्रोजेक्ट को नागपुर में शिफ्ट करे सरकार  

February 26th, 2022

डिजिटल डेस्क, नागपुर। नाग विदर्भ चेंबर आॅफ काॅमर्स ने सरकार को पत्र लिखकर केंद्रीय सड़क परिवहन  मंत्री नितीन गडकरी द्वारा रत्नागिरी के रिफाइनरी पेट्रोकेमिकल प्रोजेक्ट को विदर्भ में स्थानांतरित के प्रस्ताव का समर्थन किया है।  चेंबर के अध्यक्ष अश्विन मेहाड़िया ने कहा कि रिफाइनरी एवं पेट्रोकेमिकल प्रोजेक्ट हेतु आवश्यक प्रोडक्ट जैसे - स्टील, सीमेंट व पाॅलिस्टर आदि को ध्यान में रखते हुए नागपुर शहर इस प्रोजेक्ट हेतु सर्वोत्तम पर्याय है। इससे विदर्भ क्षेत्र का बहुत अधिक आर्थिक विकास होगा और छोटे व मझोले व्यापारियों तथा मध्यम उद्योगों को विकास के नए अवसर प्राप्त होेंगे। इनके द्वारा निर्मित उत्पादनों के लिए नागपुर बड़ा मार्केट बन सकता है। होटल, एयरपोर्ट, वेयर हाउस, लाॅजीस्टिक एवं आयात-निर्यात की सुविधाएं हैं। 

उपाध्यक्ष अर्जुनदास आहुजा ने कहा कि विदर्भ का व्यापारी व्यापार के विकास हेतु नए अवसरों की तलाश में है। यह प्रोजेक्ट ऐसे व्यापारियों को व्यापार बढ़ाने और आर्थिक संकट से बाहर निकालने में मददगार साबित होगा। उपाध्यक्ष फारूकभाई अकबानी ने कहा कि एनवीसीसी इस प्रोजेक्ट को नागपुर में स्थानांतरित करने हेतु वेद काउंसिल के प्रयासों की सराहना और समर्थन करता है।  सचिव रामअवतार तोतला ने कहा कि यह प्रोजेक्ट प्रधानमंत्री की ‘गति-शक्ति’ योजना के तहत वर्ष 2025 तक रिफाइनरी उद्योग को दोगुना विकास करने के उद्देश्य को भी पूरा करने में सहायक होगा। विदर्भ में रोजगार के अवसर निर्माण होकर विदर्भ के साथ-साथ महाराष्ट्र का भी आर्थिक विकास होगा। चेंबर के उपाध्यक्ष स्वप्निल अहिरकर, कोषाध्यक्ष सचिन पुनियानी, सहसचिव शब्बार शाकिर, राजवंतपाल सिंग तुली, जनसंपर्क अधिकारी हेमंत सारडा ने प्रोजेक्ट को नागपुर में स्थानांतरित करने की मांग की है।