दैनिक भास्कर हिंदी: मराठी भाषियों की वजह से यहां गुजराती-मारवाडी बने उद्योगपति: राज ठाकरे

October 16th, 2018

डिजिटल डेस्क मुंबई। मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने कहा कि मराठी भाषिकों को अपने मन से यह भ्रम निकाल देना चाहिए कि वे लोग उद्योग शुरू नहीं कर सकते हैं। राज ने कहा कि हमें यह समझना चाहिए कि मराठी भाषियों ने महाराष्ट्र की मिट्टी में ऐसा वातावरण तैयार किया है जिससे कि मारवाड़ी और गुजराती यहां पर आकर उद्योग- धंधा कर रहे हैं। इन लोगों ने अपने राज्यों में उद्योग शुरू क्यों नहीं किया। क्योंकि इसका कारण यह है कि महाराष्ट्र में उद्योग-धंधा शुरू करने के लिए अच्छा वातावरण है।

राज ने मराठीभाषी उद्यमियों की तरफ से आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि गुजराती आदमी चालक होते हैं। यह हम लोगों को अब समझ में आ रहा है। उनका इशारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ओर था। राज ने कहा कि गुजराती उद्यमी अपनी कंपनियों में गुजराती भाषियों को नहीं रखता, क्योंकि उसे डर होता है कि ये नौकर यहां से काम सीखकर खुद का उद्योग शुरू कर सकता है। राज ने कहा कि किताबों को पढ़कर उद्योग-धंधा नहीं किया जा सकता है। किताब पढ़कर कभी कोई सफल उद्यमी नहीं हो सकता है। राज ने उद्यमियों से कहा कि आप लोग सफलता पाने के लिए कभी भी मुझसे मुलाकात कर सकते हैं। मैं चुनाव के लिए फंड की मांग नहीं करुंगा। आप चुनाव के बाद भी मुझ से मिल सकते हैं।

 

 

खबरें और भी हैं...