दैनिक भास्कर हिंदी: ‘हरबीओवर’ सफारी में महाराजबाग से हिरण और नीलगाय भेजेंगे

January 20th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर । गोरेवाड़ा इंटरनेशनल जू में इंडियन सफारी अंतर्गत ‘हरबीओवर’ सफारी में महाराजबाग के हिरण व नीलगाय के साथ काले हिरण को छोड़ा जा सकता है। गोरेवाड़ा व्यवस्थापक की ओर से केन्द्रीय चिड़ियाघर को संबंधित प्रस्ताव भेजा गया है। मंजूरी मिलते ही महाराजबाग के 10 हिरण, 4 नीलगाय व 4 काले हिरणों को गोरेवाड़ा लाकर छोड़ा जाएगा।  

ऐसी है स्थिति
गोरेवाड़ा परिसर में वर्षों पहले गोरेवाड़ा इंटरनेशनल जू बनने की घोषणा हुई थी। 360 हेक्टेयर में इसका निर्माण किया गया है। इसमें टाइगर सफारी, लेपर्ड सफारी, भालू सफारी व हरबीओवर सफारी रहने वाली है। रेस्क्यू सेंटर के पास पर्याप्त वन्यजीव नहीं होने से अभी इसमें 2 बाघ हैं, जिसमें एक मेल व एक फीमेल है। 6 भालू है, जिसमें 3 मेल व 3 फीमेल हैं। 7 तेंदुए हैं। इसके अलावा 40 हेक्टेयर ‘हरबीओवर’ सफारी में 14 नीलगाय, 4 हिरण व 4 सांभर को छोड़ा गया है। परिसर बड़ा होने के कारण महाराजबाग से यहां वन्यजीवों को लाने की मांग की गई है।  

अनुमति मांगी गई है
हमारी ओर से केन्द्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण के पास महाराजबाग से वन्यजीवों को भेजने की अनुमति मांगी गई है। जैसे ही अनुमति मिलती है, महाराजबाग से हिरण, नीलगाय व काले हिरणों को यहां लाकर छोड़ा जाएगा। - प्रमोद पंचभाई, व्यवस्थापक, गोरेवाड़ा प्रकल्प नागपुर