comScore

अस्पताल में गरीबों के बेड को लेकर हाईकोर्ट ने मांगी रिपोर्ट

अस्पताल में गरीबों के बेड को लेकर हाईकोर्ट ने मांगी रिपोर्ट

डिजिटल डेस्क,मुंबई। बॉम्बे हाईकोर्ट ने राज्य के धर्मादाय आयुक्त से के.जे. सोमैया अस्पताल एंड रिसर्च सेंटर को लेकर रिपोर्ट मांगी है। हाईकोर्ट ने कहा है कि धर्मादाय आयुक्त की निगरानी में इस बात जांच कराई जाए कि वहां पर 10 प्रतिशत बेड गरीबो के निशुल्क इलाज के लिए रखे गए हैं कि नहीं है।  न्यायमूर्ति आर डी धानुका की खंडपीठ ने यह निर्देश झोपड़पट्टी में रहने वाले सात लोगों की ओर से दायर याचिका पर सुनवाई के बाद दिया। याचिका में दावा किया गया है कि वे कोरोना के इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती हुए थे ।

अस्पताल ने उनसे मनमानी तरीके से 12.50 लाख रुपए बिल के रुप में वसूले हैं। याचिका पर गौर करने के बाद खंडपीठ ने कहा कि सोमैया एक चैरिटेबल अस्पताल है। इसलिए धर्मादाय आयुक्त की निगरानी में इस बात की जांच कराई जाए कि वहां पर 10 प्रतिशत बेड गरीबों के लिए रखे जाते हैं कि नहीं। खंडपीठ ने 19 जून तक इस विषय पर रिपोर्ट पेश करने को कहा है। 

कमेंट करें
hl3Zn