दैनिक भास्कर हिंदी: गडकरी ने कहा- सफोकेशन से तबीयत बिगड़ी, फिलहाल सब ठीक है

December 8th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  भूतल परिवहन मंत्री के बेहोश होने की खबर से शहर में हलचल मच गई। भाजपा के साथ ही अन्य दलों के जनप्रतिनिधियों व विविध क्षेत्रों के लोगों ने उनके स्वास्थ्य की खबर ली। आरंभ से ही गडकरी के कार्यालय से जुड़े लोग कहते रहे कि स्थिति एकदम सामान्य है। गडकरी ने नागपुर पहुंचते ही सबसे पहले अपने स्वास्थ्य के बारे में जानकारी दी। यही कहा कि सफोकेशन  हुई थी और कुछ नहीं, मैं ठीक हूं। सब सामान्य है। अपने आवास पर कुछ देर आराम करने के बाद वे नियमित कार्याें में जुट गए। शाम को खासदार महोत्सव में भी शामिल हुए। 

फिलहाल सब ठीक
अहमदनगर में सभा मंच पर बेहोश होने की खबर ने गडकरी के शुभचिंतकों में हलचल मचा दी थी। लिहाजा उनके नागपुर आगमन की सूचना पाकर कई लोग सीधे विमानतल पर पहुंचे। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री हंसराज अहिर, पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, भाजपा की प्रदेश प्रभारी सरोज पांडेय, भाजपा के शहर अध्यक्ष सुधाकर कोहले, ग्रामीण के अध्यक्ष राजीव पोतदार, विधायक कृष्णा खोपड़े सहित अन्य कई भाजपा पदाधिकारी व कार्यकर्ता विमानतल पर पहुंचे थे। संवाद माध्यम से चर्चा में श्री गडकरी ने कहा कि उन्हें केवल सफोकेशन अर्थात घुटन हुई। थोड़ी तबीयत खराब हुई। लेकिन फिलहाल सब ठीक है। ब्लड प्रेशर या शुगर जैसी कोई समस्या नहीं है।  

पहले भी हुई हैं घटनाएं
नतीन गडकरी के साथ हादसे होते रहे हैं। 2006 में रामटेक से लौटते समय कार हादसा हुआ था। रामटेक में उनकी ससुराल है। हादसे में परिवार के अन्य सदस्य सकुशल रहे। श्री गडकरी को 6 माह तक निजी अस्पताल में उपचार लेना पड़ा था। उनका एक पैर अब भी बाधित है। 2012 में भाजपा के अध्यक्ष रहते हुए उत्तरप्रदेश के गाजीपुर में हादसा हुआ था। चुनाव सभा का मंच टूट गया था, हालांकि गडकरी उस हादसे में सकुशल रहे। 2014 के लोकसभा चुनाव के समय एक सभा में भी कड़ी धूप में वे फिसल गए थे। वे स्वास्थ्य के प्रति काफी सजग रहते हैं। 

लजीज व्यंजनों के शौकीन हैं
स्वादिष्ट भोजन के बारे में उनका शौक अक्सर चर्चा में रहता है। वे विविध खाद्य व्यंजनों के शौकीन है, लेकिन चिकित्सकों की सलाह पर अब खाद्य व्यंजनों से भी परहेज करते हैं। पिछले कुछ समय से वे बैठने उठने में भी असहजता जताते रहे हैं। लेकिन सामाजिक व राजनीतिक भूमिका को निभाते हुए विविध कार्यक्रमों में नियमित शामिल हो रहे हैं। तेलंगाना के बाद उन्होंने राजस्थान विधानसभा के चुनाव प्रचार में कई सभाएं ली हैं। 

शुभचिंतकों का माना आभार
विमानतल से सीधे रामनगर स्थित भक्ति निवास पहुंचे। पूर्व महाधिवक्ता श्रीहरि अणे, उद्यमी व भाजपा नेता रमेश मंत्री, विधायक कृष्णा खोपड़े उनके साथ थे। घर पहुंचते ही वे अपने आराम कक्ष की ओर चले  गए। इस बीच उनके आवास पर जमा हुए किसी भी व्यक्ति से उन्होंने चर्चा नहीं की। श्री गडकरी के करीबियों का कहना था कि शनिवार को ही वे सबसे मिलेंगे। करीब डेढ़ घंटे के विश्राम के बाद श्री गडकरी खासदार सांस्कृतिक महाेत्सव में जाने के लिए तैयार हुए। श्री गडकरी की संकल्पना पर ही रेशमबाग स्थित सुरेश भट सभागृह में खासदार सांस्कृतिक महोत्सव चल रहा है। अनिल सोले व जयप्रकाश गुप्ता जैसे भाजपा पदाधिकारी  प्रमुखता से इस कार्यक्रम की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। करीब 20 मिनट तक सांस्कृतिक महोत्सव में उपस्थित रहने के बाद वे अपने आवास के लिए रवाना हो गए। तबियत को लेकर मची हलचल पर उन्होंने यह भी कहा कि वे सभी शुभचिंतकों का आभार मानते हैं। अहमदनगर में घटना के बाद वे शिर्डी में साईं बाबा के दर्शन को पहुंचे थे। नागपुर में 10-12 वर्ष में उन्होंने कई हृदयरोगियों के उपचार व अाॅपरेशन में सहायता की है। वे मानते हैं कि मरीजों की दुआएं भी उन्हें मिली है। 


 

खबरें और भी हैं...