दैनिक भास्कर हिंदी: अगर दुकान में मिली प्लास्टिक तो हमेशा के लिए लग जाएगा ताला

October 9th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्लास्टिक बंदी पर दुकानदारों के ढुलमुल रवैये से नाराज पर्यावरण मंत्री रामदास कदम ने नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है। कदम ने कहा कि जिन दुकानों पर प्लास्टिक की थैलियां मिलेंगी उन्हें हमेशा के लिए बंद कर दिया जाएगा। मंगलवार को प्लास्टिक बंदी को लेकर मंत्रालय में एक अहम बैठक हुई जिसमें युवासेना अध्यक्ष आदित्य ठाकरे भी मौजूद थे।बैठक के बाद कदम ने पत्रकारों को बताया कि प्लास्टिक बंदी को कड़ाई से अमल में लाने के लिए अब दुकानदारों से शपथपत्र लिया जाएगा। इसमें दुकानदारों को लिख कर देना होगा कि वे प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं करेंगे। कदम ने कहा कि हमने सभी को पूरा मौका दे दिया है लेकिन अब कानून का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करनी पड़ेगी।

आदित्य ठाकरे के साथ मंत्रालय में की समीक्षा बैठक
बता दें कि महाराष्ट्र में 23 जून से प्लास्टिक बंदी लागू की गई है। पहली बार प्लास्टिक मिलने पर पांच हजार रुपए का जुर्माना लिया जाता है। दूसरी बार गलती करने पर जुर्माने की रकम बढ़कर 10 हजार रुपए हो जाती है। तीसरी बार गलती करने पर 25 हजार रुपए जुर्माने के साथ जेल की भी हवा खानी पड़ेगी। प्लास्टिक बंदी के बाद बड़े पैमाने पर निगरानी और जुर्माना वसूली की प्रक्रिया शुरू की गई थी लेकिन अब यह ठंडी पड़ती दिखाई दे रही है। दरअसल सरकार ने सभी प्रकार की प्लास्टिक थैलियों, चाय के कप, शरबत के ग्लास, थर्माकोल ग्लास, डेकोरेशन थर्माकोल, होटल में पार्सल के लिए इस्तेमाल होने वाले प्लास्टिक के चम्मच व डिब्बे, फरसाण नमकीन की कंपनी से होने वाली पैकिंग की इजाजत है लेकिन अलग से पैकिंग पर भी जुर्माने का प्रावधान है।

चिप्स नमकीन के पैकेट देने पर मिलेंगे पैसे
बैठक में बोतल बंद पानी की तरह ही चिप्स नमकीन के पैकेट वापस देने पर भी भुगतान पर चर्चा की गई। सरकार ने तय किया है कि चिप्स नमकीन जैसे खाद्य पदार्थों के खाली पैकेट के लिए कंपनियों को कलेक्शन सेंटर की व्यवस्था करनी पड़ेगी और इन पैकेटों पर लिखना होगा कि इन्हें वापस करने पर 25 पैसे का भुगतान खाली पैकेट जमा करने वाले को देना होगा। 
 

खबरें और भी हैं...