दैनिक भास्कर हिंदी: नौसेना में शामिल हुआ सुविधाओं से लेस अस्पताल, सैन्य कर्मियों को मिलेगा बेहतर इलाज

December 25th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भारतीय नौसेना ने  मुंबई के निकट उरण में नौसैन्य स्टेशन करांझा में अपने दसवें नौसैन्य अस्पताल के रूप में आईएनएचएस संधानी को अपने बेड़े में शामिल किया। पश्चिमी क्षेत्र के नौसेना पत्नी कल्याण संघ ( एनडब्ल्यूडब्ल्यूए ) की प्रमुख प्रीति लूथरा ने अस्पताल को बेड़े में जोड़ने संबंधी फलक का अनावरण किया। नौसेना ने अपनी विज्ञप्ति में कहा कि अस्पताल सर्जन कैप्टन एचबीएस चौधरी के पहले प्रथम कमान अधिकारी ने कमीशनिंग वारंट पढ़कर सुनाया। इसमें कहा गया, ‘बीते कुछ दशकों में नौसैन्य स्टेशन करांझा के तेज विस्तार के साथ, यहां रहने वाले आठ हजार से अधिक नौसैन्य कर्मियों तथा उनके आश्रितों के बेहतर इलाज के लिए एक समर्पित अत्याधुनिक अस्पताल की जरूरत महसूस हुई।’ एक अधिकारी ने कहा कि भारतीय नौसैन्य अस्पताल पोत (आईएनएचएस) संधानी भारतीय नौसेना का दसवां नौसैन्य अस्पताल है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि दवा, सर्जरी, स्त्रीरोग, बालरोग आदि क्षेत्रों के विशेषज्ञों के दल वाले 30 बिस्तरों के इस अस्पताल के बेड़े में शामिल होने से बेहतर गुणवत्तापूर्ण एवं शीघ्रता से इलाज मिल पाएगा।  मरीजों को समुद्र मार्ग से मुंबई ले जाने की जरूरत नहीं रहेगी।

अब तक शामिल नौसैन्य अस्पताल

  • अश्विनी, मुंबई
  • संजीवनी, केरल
  • कल्याणी, आंध्रप्रदेश
  • निवारिणी, ओडिशा
  • कस्तूरी, महाराष्ट्र (लोनावला)
  • पतंजलि, कर्नाटक
  • नवजीवनी, केरल
  • जीवंती, गोवा