comScore

MP कांग्रेस में कलह : मंत्री सिंघार का दिग्गी पर हमला, सिंधिया दुखी तो अरुण भी हुए खफा

MP कांग्रेस में कलह : मंत्री सिंघार का दिग्गी पर हमला, सिंधिया दुखी तो अरुण भी हुए खफा

हाईलाइट

  • कमलनाथ के मंत्री ने दिग्विजय सिंह के खिलाफ दिया बयान
  • अरुण यादव ने भी ट्विटर पर जताई नाराजगी
  • मध्य प्रदेश कांग्रेस में अंर्तकलह !

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश सरकार में वनमंत्री उमंग सिंघार लगातार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह को लेकर बयान बाजी कर रहे हैं। पर्दे के पीछे सरकार चलाने और ट्रांसफर के बाद अब कमलनाथ के मंत्री उमंग सिंघार ने दिग्विजय पर रेत और शराब कारोबार का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा, दिग्विजय एक नंबर के ब्लैकमेलर हैं। वो कौन सा धंधा नहीं करते, रेत से लेकर शराब तक के कारोबार में शामिल हैं। सिंघार ने कहा, दिग्विजय को पैसों की इतनी भूख क्यों है ? इस उम्र में उन्हें हरि नाम का भजन करना चाहिए। उन्होंने मध्य प्रदेश में अपने बेटे को सेट कर दिया है। आज उनका इंतजार कर रहा हूं। वो आ जाए तो उन्हें कड़वी चाय पिलाऊंगा, क्योंकि वो कड़वी बात करते हैं।  

दरअसल, सोमवार देर रात मीडिया से चर्चा के दौरान सिंघार ने दिग्गी पर फिर निशाना साधा। सिंघार ने दिग्गी पर रेत और शराब कारोबार का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा, वे रेत और शराब कारोबार को बढ़ावा दे रहे हैं। उनका होशंगाबाद से रेत का धंधा चल रहा है। इसके अलावा भी उनके कई उल्टे-सीधे धंधे चल रहे हैं। भाजपा के समय से जमे अधिकारियों को अब तक नहीं हटाया गया है। परिवहन आयुक्त पद पर एक ही अधिकारी सात साल से जमा है। एक के बाद एक बयान के बाद प्रदेश की सियासत में बवाल मच गया है। कांग्रेस डैमेज कंट्रोल करने में जुट गई है। इससे पहले सिंघार ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर दिग्जिवय पर कमलनाथ सरकार को अस्थिर करने की कोशिश का आरोप लगाया है। मंत्री के आरोपों के बाद कांग्रेस में बवाल मच गया है। कमलनाथ के मंत्री और दिग्विजय आमने सामने हो गए है।

अवैध उत्खनन पर सिंधिया नाराज

अवैध उत्खनन पर पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी ही सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया है। उन्होंने कहा, चुनाव में हमने इस मुद्दे का विरोध किया था। पूरे प्रदेश में अवैध उत्खनन बंद होना चाहिए। दोषियों के खिलाफ सरकार को कड़ी कार्रवाई करना चाहिए।

सामने आई अरुण यादव की नाराजगी

मध्य प्रदेश कांग्रेस में चल रहे सियासी घमासान के बीच पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने ट्वीट कर कांग्रेस नेताओं के प्रति अपना दुख जाहिर किया है। इस ट्वीट से साफ समझ आ रहा है कि प्रदेश की सत्ता में बैठी कांग्रेस में आज भी गुटबाजी हावी है। ट्वीट करते हुए अरुण यादव ने लिखा मप्र मे 15 सालों तक ईमानदार पार्टीजनों के साथ किये गए संघर्ष के बाद 8 महीनों मे जो स्थितियां सामने आ रही हैं,उसे देखते हुए बहुत व्यथित हूँ,यदि इतनी जल्दी इन दिनों का आभास पहले ही हो जाता तो शायद जान हथेली पर रखकर जहरीली और भ्रष्ट विचारधारा के ख़िलाफ़ लड़ाई नही लड़ता,बहुत आहत हूँ।

गौरतलब है कि जब कांग्रेस विपक्ष में थी, तब प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रहते अरुण यादव ने प्रदेश भर में कांग्रेस के लिए आवाज बुलंद की लेकिन अपनी ही सरकार आने के बाद वो नजरअंदाजी से दुखी है। यादव विधानसभा चुनाव में बुधनी सीट से शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ चुनाव में भी उतरे थे। 

शिवराज ने अरुण यादव की पुरानी तस्वीरों को बता दिया ''कांग्रेस सरकार में लाठीचार्ज''

अरुण यादव ने एक ट्वीट कर बीजेपी शासन के दौरान किए गए आंदोलनों का जिक्र किया, उन्होंने उस दौरान अपने ऊपर हुए लाठीचार्ज की तस्वीर भी साझा की। शिवराज ने इन तस्वीरों को हाल की बताकर ये ट्वीट कर दिया कि वो कांग्रेस सरकार द्वारा "लाठीचार्ज" किये जाने की घटना की घोर निंदा करते हैं। दरअसल अरुण यादव संघर्ष की इन तस्वीरों के साथ ये दर्शाता चाहते थे कि कांग्रेस को सत्ता दिलाने के लिए उन्होंने कितनी मुश्किलें सही।

अरुण यादव ने कहा, आपके समय हुआ था लाठीचार्ज

कमेंट करें
0ew9m