comScore

ब्याज के लिए ट्रांसपोर्टर का अपहरण, मारपीट कर छोड़ा

ब्याज के लिए ट्रांसपोर्टर का अपहरण, मारपीट कर छोड़ा

डिजिटल डेस्क, नागपुर। ब्याज की रकम को लेकर 3 युवकों ने ट्रांसपोर्टर का अपहरण किया। गाड़ी में लेकर उसे शहर के विभिन्न हिस्सों में घूमते रहे और उसकी पिटाई की। ट्रांसपोर्टर के भाई ने आकर रकम अदा करने की हामी भरी तो उसे जान से मारने की धमकी देकर छोड़ा। धंतोली थाने में 3 युवकों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। इसमें से 2 को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

दिसंबर में एक लाख रुपए लिए थे
म्हालगी नगर निवासी हेमराज चंद्रभानजी सोरते (33) ट्रांसपोर्ट का काम करता है। दिसंबर 2019 में हेमराज ने आशीष निस्वादे (32) से एक लाख रुपए ब्याज पर लिए थे। इसके दो महीने बाद लॉकडाउन लगने से हेमराज का धंधा चौपट हो गया। वह ब्याज की रकम तय तिथि पर नहीं दे सका। आरोप है कि आशीष का फोन हेमराज के पास आने लगा। आशीष उसे फोन कर और सामने आकर परेशान करने लगा था। 12 सितंबर की दोपहर 11-12 बजे के बीच आशीष ने फोन कर हेमराज को धंतोली स्थित गेटवेल अस्पताल के पास बुलाया।

आशीष ने अपने साथी गुड्डू पठान और एक अन्य व्यक्ति की मदद से हेमराज का कार से अपहरण किया। इसके बाद उसे गोधनी, मानकापुर, टेका, मोमिनपुरा और भालदारपुरा ले गए। इस दौरान उसकी जमकर पिटाई की। इस बीच, हेमराज के भाई को बुलाया गया। भाई ने रकम देने की हामी भरी। इसके बाद हेमराज को छोड़ा गया। आशीष और गुड्डू को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस का दावा है कि आशीष ने बताया कि ब्याज की रकम उसने किसी और व्यक्ति से लेकर दी। समय से उस व्यक्ति को पैसे नहीं मिले तो वह आशीष को परेशान कर रहा था। इस कारण उसने हेमराज के साथ ऐसा किया। 
 

 
 
 
 

कमेंट करें
zZKmB