comScore

कोरिया : कोरिया जिले के लिए बड़ी उपलब्धि : अब बैकुण्ठपुर में कोविड-19 जांच की सुविधा और कोविड हॉस्पिटल भी

July 24th, 2020 15:23 IST
कोरिया : कोरिया जिले के लिए बड़ी उपलब्धि : अब बैकुण्ठपुर में कोविड-19 जांच की सुविधा और कोविड हॉस्पिटल भी

डिजिटल डेस्क, कोरिया 22 जुलाई 2020 कोरिया जिले में मिला संदिग्ध व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित है या नहीं, ये जानने के लिए अब जिला स्वास्थ्य विभाग को इंतजार नहीं करना पड़ता है, कोरिया जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर में कोविड-19 की जांच के लिए अत्याधुनिक Truenat लैब की स्थापना की गई है। जहां सावधानी पूर्वक प्रक्रिया संपन्न किये जाने पर 1 से डेढ़ घंटे में कोविड-19 की रिपोर्ट प्राप्त हो जायेगी। इस लैब की स्थापना कंचनपुर में कोविड अस्पताल परिसर में की गई है। कोरिया जिले के लिए यह निश्चित ही बड़ी उपलब्धि है। अत्याधुनिक Truenat लैब का विधिवत उद्घाटन कलेक्टर श्री सत्यानारायण राठौर की उपस्थिति में संसदीय सचिव एवं बैकुण्ठपुर विधायक श्रीमति अंबिका सिंहदेव के करकमलों से 06 जुलाई 2020 को किया गया। इस दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रामेश्वर शर्मा सहित स्वास्थ्य अमला शामिल हुआ। राज्य शासन का टेस्ट पास कर मिली ट्रु-नॉट विधि से कोविड-19 की जांच की अनुमति 07 जुलाई 2020 को राज्य द्वारा भेजे गये पांच सेम्पलों का लैब में Proficiency Test किया गया, जिसकी रिपोर्ट राज्य को भेजा गयी। यह रिपोर्ट राज्य शासन के द्वारा Proficiency Test में पास हो गयी। इस तरह राज्य शासन द्वारा दिनांक 08 जुलाई 2020 को ट्रु-नॉट विधि से कोविड-19 की जांच हेतु बैकुण्ठपुर Truenat लैब को अनुमति प्रदान की गई। साथ ही साथ राज्य तकनीकी समिति की अनुशंसा एवं एम्स रायपुर कोविड लैब के वेलिडिटी टेस्ट के आधार पर 03 सेम्पल की पूलिंग कर जांच करने की अनुमति संचालक स्वास्थ्य सेवायें द्वारा दिनांक 09 जुलाई 2020 को प्रदान की गई और अब 09 जुलाई 2020 से प्रतिदिन कोविड-19 की जांच लैब में की जा रही है। सीएमएचओ ने दी लैब टेस्टिंग की जानकारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रामेश्वर शर्मा ने बताया कि कोरिया जिले में अत्याधुनिक Truenat लैब की स्थापना हमारे लिए बड़ी उपलब्धि है। राज्य शासन से हमें 4 मॉडयूल की एक Quattro Truenat Machine प्रदाय की गयी है। 21 जुलाई तक कुल 366 लोगों का सेम्पल लिया गया है, जिसमें 354 लोगों का जांच हुआ, जिसमें 08 व्यक्ति कोविड-19 से संक्रमित पाये गये, 346 व्यक्तियों की रिपोर्ट निगेटिव एवं 08 व्यक्तियों का सेम्पल रिजेक्ट किया गया, वर्तमान में 04 लोगों की जांच जारी है। एक शिफ्ट में 4 लैब टेक्नीलॉजिस्ट एवं एक लैब अटेंडेंट व एक स्वच्छक व दो कम्प्यूटर ऑपरेटर की ड्यूटी लगायी गयी है, इसमें एक मेडिकल ऑफिसर की ड्यूटी लैब प्रभारी के रूप में लगायी गयी है। टेस्टिंग की प्रक्रिया - लैब में बहुत ही सर्तकतापूर्वक जांच की जा रही है, लैब टेक्नीशियन सुरक्षा की दृष्टि से पीपीई किट पहनकर अपनी सेवा दे रहे हैं। ज्तनमदंज मशीन में एक साथ 4 व्यक्तियों का सेम्पल लगाया जाता है। जिसका रिपोर्ट लगभग एक से ढेड घंटा में प्राप्त होता है। उलेलखनीय है कि वर्तमान में जिले में एक्टिव केस 18 हैं। अब तक 93 केस पहचान में आये हैं। जिसमें ग्रामीण क्षेत्रों से 27 व शहरी क्षेत्रों से 66 मरीजों की पहचान की जा चुकी है। राज्य द्वारा डिजाईन की गई ट्रु-नॉट लैब अत्याधुनिक मशीनों से लैस है। लैब बनने के बाद राज्य शासन द्वारा सराहना की गई एवं इसे पूरे प्रदेश में रोलमॉडल मान्य किया गया, अन्य जिलों में इसी प्रकार लैब बनाने हेतु प्रेरित किया गया है। कलेक्टर ने की बचाव उपायों का पालन कर लोगों से प्रशासन की मदद करने की अपील कलेक्टर श्री एस एन राठौर ने कहा कि जिले में अत्याधुनिक मशीनों से लैस ट्रु-नॉट लैब में कोविड-19 संबंधित टेस्ट शुरू हो चुके हैं जिससे संक्रमण को रोकने एवं बीमारी की शीघ्र पहचान करने में मदद मिल रही है। सभी लोगों से अपील है कि मास्क जरूर पहनें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें एवं बार-बार हाथों को साफ करते रहें। भीड़-भाड़ व सार्वजनिक स्थानों में जाने से बचें। बचाव उपायों का पालन कर उचित व्यवसथा बनाये रखने में जिला प्रशासन की मदद करें। इस महामारी से बचने में आपकी सहभगिता बेहद जरूरी है। क्रमांक 73/ 2020/ संगीता

कमेंट करें
sraje