comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

कोविड़ झेल रहे परिवारों की पीड़ा और बढ़ा रहे चोर, उड़ा रहे माल

कोविड़ झेल रहे परिवारों की पीड़ा और बढ़ा रहे चोर, उड़ा रहे माल

डिजिटल डेस्क, नागपुर। दो अलग-अलग स्थानों पर चोरी की वारदातों में मिडास अस्पताल में भर्ती महिला मरीज के किसी ने आभूषण उड़ा लिए। वही एक मकान में किसी ने नकदी और आभूषण पर हाथ साफ सकर दिया। बजाज नगर और इमामवाड़ा थाने में प्रकरण दर्ज किए गए हैं। आरोपियों का कोई सुराग नहीं मिला है। फुटेज खंगाले जा रहे हैं। 

संक्रमित महिला के आभूषण कर दिये पार 
महिला के पास किसी को जाने की इजाजत नहीं थी : रामदासपेठ में मिडास नामक निजी अस्पताल है। अस्पताल में कोरोना संक्रमित कौशल्याबाई खांडेकर (69)  मनी ले-आउट निवासी को भर्ती कराया गया है। कौशल्याबाई के पास किसी रिश्तेदार या परिजन को जाने की इजाजत नहीं थी। केवल अस्पताल के कर्मचारी ही उस वार्ड में आ-जा सकते थे। 24 अप्रैल की शाम को मौका पाकर किसी ने कौशल्याबाई के सोने के आभूषण चुरा लिए। आभूषणों की कीमत 1 लाख 60 हजार 600 रुपए बताई जा रही है। इस घटना से अस्पताल प्रबंधन में भी हड़कंप मच गया। कौशल्याबाई के पुत्र संदीप (46) की शिकायत पर बजाज नगर थाने में प्रकरण दर्ज किया गया है। अभी तक आरोपी का कोई सुराग नहीं मिला है।

परिवार अंत्येष्टि में गया था, उड़ा ले गए माल
इसी तरह से आइसोलेशन अस्पताल के पीछे रहने वाले राहुल भगत (48) नामक व्यक्ति के पिता का देहांत होने से राहुल परिवार सहित पिता की अंत्येष्टि के लिए अपने मूल गांव रायपुर गया हुआ था। 30 अप्रैल और 1 मई की दरमियानी रात में किसी ने घर ताला तोड़कर अलमारी से 1 लाख 25 हजार रुपए नकद और सोने के आभूषण, ऐसे कुल 1 लाख 90 हजार रुपए के माल पर हाथ साफ कर दिया। घटना ऐन इमामवाड़ा थाने के पीछे हुई है। यानी पुलिस की नाक के नीचे चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया है। फुटेज खंगाले जा रहे हैं।  जांच जारी है। 
 

कमेंट करें
hlku2