comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

जून के आखिर तक खरीफ की 27 प्रतिशत बुवाई, जानिए कहां पर कितनी हुई बारिश 

July 02nd, 2018 23:42 IST
जून के आखिर तक खरीफ की 27 प्रतिशत बुवाई, जानिए कहां पर कितनी हुई बारिश 

हाईलाइट

  • प्रदेश में लगातार बारिश न होने के कारण खरीफ फसल की बुवाई की गति धीमी है।
  • राज्य भर में जून के आखिर तक 27 प्रतिशत बुवाई हुई है।
  • सूबे में गन्ने के क्षेत्र को मिलाकर 149.74 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में खरीफ की बुवाई होती है।

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रदेश में लगातार बारिश न होने के कारण खरीफ फसल की बुवाई की गति धीमी है। राज्य भर में जून के आखिर तक 27 प्रतिशत बुवाई हुई है। सूबे में गन्ने के क्षेत्र को मिलाकर 149.74 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में खरीफ की बुवाई होती है। जिसमें से अभी तक 39.88 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बुवाई हुई है। प्रदेश सरकार के कृषि विभाग के एक अधिकारी ने दैनिक भास्कर से बातचीत में यह जानकारी दी। अधिकारी ने कहा कि अभी किसान सोयाबीन की फसलों की बुवाई अधिक कर रहे हैं। दमदार बारिश शुरू होने के बाद कपास की बुवाई में तेजी आएगी। जुलाई महीने के दूसरे सप्ताह के बाद धान की बुवाई को गति आएगी।खरीफ सत्र में कपास, तुअर (अरहर), बाजरी, मक्का, सोयाबीन, ज्वारी,  सूरजमुखी समेत अन्य फसलों की बुवाई होती है।

पुणे स्थित राज्य कृषि आयुक्तालय के अनुसार राज्य में सबसे अधिक लातूर विभाग में 39 प्रतिशत, अमरावती विभाग में 34 प्रतिशत, कोल्हापुर में सबसे अधिक 33 प्रतिशत, नागपुर विभाग में 28 प्रतिशत, नाशिक विभाग में 19 प्रतिशत, औरंगाबाद विभाग में 28 प्रतिशत, पुणे विभाग में 5 प्रतिशत और कोंकण विभाग में सबसे कम 0.35 प्रतिशत बुवाई हुई है। राज्य भर के बुवाई के आंकड़े 29 जून तक के हैं।

कृषि विभाग के अनुसार लातूर विभाग में 27.87 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में से 10.79 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बुवाई हुई है। अमरावती विभाग के खरीफ क्षेत्र के 32.31 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में से 10.93 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बुवाई हुई है। नागपुर विभाग में 19.18  लाख हेक्टेयर क्षेत्र में से 5.42 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में किसानों ने बुवाई की है। नाशिक विभाग में 21.31 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बुवाई होती है पर बारिश कम होने से अब तक 3.96 लाख हेक्टेयर बुवाई हुई है।

औरंगाबाद विभाग में हर साल करीब 20.15 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बुवाई होती है। लेकिन बारिश कम होने से किसान फिलहाल बुवाई के लिए जल्दबाजी नहीं दिखा रहे हैं। संभाग में 5.74 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बुवाई हुई है। यहां पर किसानों द्वारा बुआई की गई खरीफ की फसलें उग रही हैं।

तहसील स्तर पर बारिश की स्थिति
राज्य के 355 तहसील में से 2 तहसील में 25 प्रतिशत तक बारिश हुई है। 21 तहसील में 25 से 50 प्रतिशत और 75 तहसील में 50 से 75 प्रतिशत, 67 तहसील में 75 से 100 प्रतिशत और 190 तहसीलों में 100 प्रतिशत से अधिक वर्षा हुई है। राज्य में 29 जून तक 219.5 मिमी बारिश हुई है।

कहां पर कितनी बारिश 

बारिश का प्रतिशत                जिले का नाम 
50 से 75 प्रतिशत                सोलापुर, बुलढाणा 
75 से 100 प्रतिशत              नाशिक, नंदूरबार, जलगांव, कोल्हापुर, औरंगाबाद,   
                                        जालना, बीड़, भंडारा, गोंदिया, चंद्रपुर

100 प्रतिशत से अधिक         नागपुर, यवतमाल, वर्धा, गडचिरोली, नांदेड़,  
                                        परभणी, हिंगोली, अकोला, वाशिम, अमरावती,                                         
                                        सातारा, सांगली, लातूर, उस्मानाबाद, अहमदनगर,   
                                        पुणे, ठाणे, पालघर, रत्नागिरी, रायगड, सिंधुदुर्ग,  
                                        धुलिया       

कमेंट करें
meKIZ