comScore

लर्निंग लाइसेंस के लिए 30 जून तक बढ़ी अवधि ,फिर से नहीं देना होगा एग्जाम

लर्निंग लाइसेंस के लिए 30 जून तक बढ़ी अवधि ,फिर से नहीं देना होगा एग्जाम

डिजिटल  डेस्क, नागपुर। कोरोना के कारण लर्निंग लाइसेंस धारकों की अवधि बढ़ा दी गई है। जिनकी लाइसेंस की डेट अप्रैल, मई माह में खत्म होनेवाली थी। उन्हें अब 30 जून तक अवधि बढ़ा कर राहत दी गई है। यानी लर्निंग लाइसेंस धारकों को फिर से ऑनलाइन परीक्षा का सामना नहीं करना पड़ेगा।

अधिकृत आंकड़ों की बात करें तो शहर में 12 लाख से ज्यादा वाहन हैं। वाहन चलाने के लिए लाइसेंस जरूरी है। ऐसे में आरटीओ कार्यालय में दस्तावेज आदि की प्रक्रिया पूरी कर वाहनधारकों को लाइसेंस प्राप्त करना होता है। इस प्रक्रिया की बात करें तो पहले लर्निंग लाइसेंस के लिए ऑनलाइन डेट लेनी पड़ती है। फिर इस डेट पर कार्यालय में जाकर ऑनलाइन एक्जाम देना पड़ता है। इसके बाद स्थाई लाइसेंस के लिए कार्यालय में बुलाया जाता है।

ट्रायल लेकर यदि वाहनधारक पास होता है, तो उसे लाइसेंस दिया जाता है। लर्निंग लाइसेंस की अवधि 6 माह तक होती है। लेकिन लंबे समय से कोविड-19 के कारण पूरा देश थम सा गया है। आरटीओ कार्यालय भी बंद है। जिससे अवधि खत्म होनेवाले लर्निंग लाइसेंस धारकों के सामने मुश्किल आ रही थी। कोविड-19 के कारण उन्हें फिर से अपाइमेंट से लेकर ऑनलाइन परीक्षा देने की स्थिति सामने थी। लेकिन उनके लिए अब राहत की खबर है। प्रादेशिक परिवहन कार्यालय की ओर से राहत दी गई है। लर्निंग लाइसेंस धारकों को 30 जून तक अवधि दी गई है।  

लर्निंग लाइसेंस धारकों के लिए अवधि बढ़ा दी गई है। 30 जून तक उन्हें स्थाई लाइसेंस के लिए मौका दिया जाएगा। आगे अवधि और बढ़ भी सकती है।--              अतुल आदे, डिप्टी आरटीओ, शहर आरटीओ नागपुर

कमेंट करें
lFAUk