• Dainik Bhaskar Hindi
  • State
  • Let everyone be a participant in making self-reliant Madhya Pradesh - Speaker of the Vidhan Sabha Shri Girish Gautam Madhya Pradesh Foundation Day was celebrated with gaiety!

आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश : आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने में सभी सहभागी बनें - विधानसभा अध्यक्ष श्री गिरीश गौतम मध्यप्रदेश स्थापना दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया!

November 2nd, 2021

डिजिटल डेस्क | रीवा मध्यप्रदेश का 66वां स्थापना दिवस आज एक नवम्बर को हर्षोल्लास एवं उमंग के साथ मनाया गया। भोपाल में आयोजित मुख्य समारोह को एलईडी के माध्यम से देखा गया तथा मुख्यमंत्री जी का संदेश सुना गया। रीवा जिला मुख्यालय के पद्मधर पार्क में आयोजित समारोह में विधानसभा अध्यक्ष श्री गिरीश गौतम ने मॉ सरस्वती के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कन्या पूजन एवं मध्यप्रदेश गान के साथ समारोह प्रारंभ हुआ। इस अवसर पर अपने उद्बोधन में विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने में सभी सहभागी बनें। मध्यप्रदेश सरकार का संकल्प है कि हमें अपने प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाना है। अत: जो व्यक्ति जिस पद पर या जिस कार्यक्षेत्र में है वह पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ अपना कार्य कर आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश बनाने में सहयोग दे ताकि ह्मदय प्रदेश मध्यप्रदेश देश का सर्वोत्तम प्रदेश बने। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश सिंचाई के सुविधाओं के विस्तार के कारण खाद्यान्न उत्पादन के मामले में देश में अग्रणी राज्य बन चुका है। रीवा जिला सोलर एनर्जी के उत्पादन में आगे है।

रीवा जिले में विकास के अनेक काम हुए हैं और जिले का स्वरूप बदला है। हमारा प्रयास होगा कि हम रीवा को विकास के मामले में और ऊंचाईयों तक ले जाएं। श्री गौतम ने कहा कि रीवा जिले में लोक कल्याण के भी अनेक कार्य हुए हैं। कोरोना काल में रीवा में चिकित्सकीय व्यवस्था को काफी सराहना मिली। उन्होंने कहा कि हम सभी जनप्रतिनिधि रीवा जिले की जनता के साथ मिलकर सभी के सहयोग से विकास की नई गाथा लिखते हुए आत्मनिर्भर रीवा बनाने के लिए कृत संकल्पित हैं क्योंकि आत्मनिर्भर रीवा से ही आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश का निर्माण हो सकेगा। इस अवसर पर अपने उद्बोधन में सांसद श्री जनार्दन मिश्र ने कहा कि मध्यप्रदेश ने गेहू के उत्पादन में अग्रणी स्थान हासिल किया है। 24 घंटे बिजली देने के मामले में मध्यप्रदेश देश में दूसरे स्थान पर है।

रीवा जिले में इस वर्ष गत वर्ष की तुलना में धान की दुगनी खरीद की जाएगी। रीवा जिला स्वास्थ्य सुविधाओं के क्षेत्र में आत्मनिर्भर हो रहा है। जिले में स्वयंसेवी संगठनों ने समाज के अंतिम छोर के व्यक्तियों व दीन दुखियों की सेवा करने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष रीवा जिले को स्वर्णिम जिला बनाने के लिए कृत संकल्पित हैं। उनके इन प्रयासों में सभी सहभागी बनें। समारोह में ज्योति स्कूल, बाल भारती विद्यालय व मॉडल कॉलेज की छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दी गर्इं। कार्यक्रम स्थल में आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के तहत स्वनिर्मित उत्पादों की प्रदर्शनी भी लगाई गई।

विधानसभा अध्यक्ष एवं अतिथियों ने प्रतिभागियों को प्रशस्ति पत्र प्रदान किए। कार्यक्रम में पूर्व मंत्री एवं रीवा विधायक श्री राजेन्द्र शुक्ल, विधायक मनगवां डॉ. पंचूलाल प्रजापति, विधायक सेमरिया श्री केपी त्रिपाठी, कमिश्नर अनिल सुचारी, एडीजीपी केपी व्यंकटेश्वर राव, कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी, एसपी नवनीत भसीन, आयुक्त नगर निगम मृणाल मीणा, अपर कलेक्टर शैलेन्द्र सिंह, एसडीएम अनुराग तिवारी, अधीक्षण यंत्री शैलेन्द्र शुक्ल, विद्याप्रकाश श्रीवास्तव, अवधेश तिवारी, राजेश पाण्डेय, रामनरेश तिवारी निष्ठुर, पुष्पेन्द्र गौतम, कार्यपालन यंत्री एसके चतुर्वेदी सहित अधिकारी-कर्मचारी, गणमान्य नागरिक, विद्यालयीन छात्र-छात्राएं एवं शिक्षक तथा बड़ी संख्या में स्थानीयजन उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...