दैनिक भास्कर हिंदी: EVM के नए वर्जन के साथ होगा लोकसभा चुनाव, छेड़छाड़ हुई तो होगी बंद

July 29th, 2018

योगेश चिवंडे, नागपुर। ​​​​​​चुनाव में EVM को लेकर उठ रहे सवालों के बीच भारत निर्वाचन आयोग के सामने निष्पक्ष व नि:संदेह चुनाव कराने की चुनौती है। ऐसे में VVPAT वाली मशीनों पर जोर दिया जा रहा है। इसके लिए एम-3 नए वर्जन की मशीनें इस्तेमाल करने का निर्देश सभी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों को दिया गया है। इस अनुसार, नागपुर जिले में आगामी लोकसभा चुनाव कराने के लिए नए वर्जन की 15 हजार EVM लाने का निर्णय लिया गया है। जल्द ही जिला निर्वाचन विभाग की एक टीम बंगलुरु जाकर वहां से 15 हजार नई EVM नागपुर लाएगी। बताया गया कि एम-2 वर्जन में VVPAT का इस्तेमाल नहीं होता है। एम-3 में VVPAT लगाने की सुविधा है, इसलिए सभी निर्वाचन विभागों को आगामी लोकसभा चुनाव में नए वर्जन की EVM का इस्तेमाल करने का आदेश दिया है।

स्क्रैप में जाएंगी पुरानी EVM मशीनें
नागपुर जिला निर्वाचन विभाग के पास 15 से 16 हजार पुरानी EVM (एम-2) हैं। फिलहाल बिहार राज्य के स्थानीय निकाय चुनाव में इसे भेजने के निर्देश चुनाव आयोग से मिले हैं। करीब एक हजार मशीनें बिहार भेजी जाएंगी। शेष मशीनें स्क्रैप (कबाड़) में निकाली जाएगी। सूत्रों ने बताया कि किसी भी मशीनों को तीन चुनाव से अधिक इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। मौजूदा जो मशीनें हैं, वे 2006 से उपयोग हो रही हैं। इसमें अब तक 3 चुनाव हो चुके है। ऐसे में जल्द इन्हें स्क्रैप में डाला जाएगा। हालांकि अब तक चुनाव आयोग से इसके आदेश नहीं मिले हैं। आदेश मिलते ही उन्हें उपयोगिता से बाहर किया जाएगा।

3.44 लाख वोटर बढ़े
गत लोकसभा चुनाव की तुलना में आगामी लोकसभा चुनाव में नए मतदाताओं की संख्या अच्छी खासी होगी। पिछले लोकसभा चुनाव के बाद अब तक 3.44 लाख नए वोटर बढ़े हैं। नागपुर जिले में फिलहाल 39 लाख 19 हजार 317 वोटर की संख्या दर्ज की गई है। नागपुर लोकसभा अंतर्गत 2077 हजार 583 और रामटेक लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र अंतर्गत 18 लाख 41 हजार 734 मतदाता हैं। आगामी लोकसभा चुनाव के लिए अधिसूचना जारी होने तक मतदाताओं के पंजीयन की प्रक्रिया जारी रहेगी। नए मतदाता सहित कोई भी अपना पंजीयन या नाम-पता सुधार करवा सकता है। 1 अगस्त को मतदाताओं की नई सूची भी जारी होगी। 

नागपुर लोकसभा
दक्षिण-पश्चिम नागपुर-357450 
दक्षिण नागपुर-362232 
पूर्व नागपुर-349160 
मध्य नागपुर-307291 
पश्चिम नागपुर-340639
उत्तर नागपुर-360811 

रामटेक लोकसभा
काटोल-259475 
सावनेर-292084
हिंगणा-343028 
उमरेड-274690 
कामठी-409031 
रामटेक-263426

यह है खासियत  एम-3 नामक मार्क की इन मशीनों में अगर किसी ने छेड़छाड़ का प्रयास किया तो ये ‘फैक्ट्री मोड’ में चली जाएंगी और इनको फिर फैक्ट्री में ही ठीक किया जा सकेगा। एम-3 मार्क वाली इन मशीनों में बैलेट यूनिट और VVPAT भी एम-3 मार्क के ही अटैच किए जा सकेंगे। अन्य मार्क के बैलेट यूनिट या VVPAT में न तो इसमें अटैच किए जा सकेंगे और न ही इनसे मशीन को संचालित किया जा सकेगा। इसमें ऐसी व्यवस्था भी नहीं है, जिससे इसको रिमोट से संचालित किया जा सके।

नई EVM से चुनाव
घुगे, उपजिला निर्वाचन अधिकारी के मुताबिक आगामी लोकसभा चुनाव नई EVM से ही होंगे। इसके लिए एम-3 वर्जन की मशीनों का इस्तेमाल किया जाएगा। इसमें VVPAT की सुविधा है। बंगलुरु से लगभग 15 हजार मशीन लाई जाएंगी। लगभग इतनी पुरानी मशीनें गोदाम में रखी जाएंगी। चुनाव आयोग से नए निर्देश आने पर इनके उपयोग पर विचार किया जाएगा।