दैनिक भास्कर हिंदी: जबरन वसूली मामले में परमबीर सहित 28 आरोपियों  के खिलाफ लुकआउट नोटिस

August 5th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। जबरन वसूली के मामले में ठाणे पुलिस ने पूर्व मुंबई पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह समेत सभी 28 आरोपियों के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी पुष्टि की है। पुलिस को डर है कि मामले में आरोपी देश छोड़कर भाग सकते हैं। 

केतन तन्ना नाम के बिल्डर ने सिंह के साथ डीसीपी दीपक देवराज, एससीपी एनटी कदम, पूर्व पुलिस अधिकारी प्रदीप शर्मा, सीनियर इंस्पेक्टर राजकुमार कोथमिरे और माफिया सरगना रवि पुजारी समेत 28 लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। अपनी शिकायत में तन्ना ने दावा किया है कि आरोपियों ने उसके खिलाफ झूठा मामला दर्ज कर मकोका में फंसाने और एनकाउंटर की धमकी देकर जबरन करोड़ों रुपए की वसूली की।

एफआईआर दर्ज कराने के बाद तन्ना ने ठाणे के डीसीपी अविनाश अंबुरे को मंगलवार को पत्र लिखकर मांग की कि मामले में आरोपी फरार हो सकते हैं इसलिए पहले ही एहतियाती कदम उठाए जाने चाहिए। पत्र में तन्ना ने लिखा है कि आरोपियों के पासपोर्ट अभी उनके पास ही हैं, ऐसे में गिरफ्तारी न होने के चलते उनके फरार होने की आशंका है। इसके अलावा कुछ आरोपियों के पास उनके हथियार हैं उन्हें भी जब्त नहीं किया गया है। तन्ना के मुताबिक आरोपी रसूखवाले हैं, इसलिए उन पर और दूसरे शिकायतकर्ताओं पर दबाव डालने के लिए उनके खिलाफ फर्जी मामले दर्ज किए जा सकते हैं। वहीं मामले में माफिया सरगनाओं के नाम शामिल होने के चलते पुलिस सिंह और दूसरे आरोपियों के खिलाफ मकोका के तहत मामला दर्ज करने पर भी विचार कर रही है।    
 

खबरें और भी हैं...