दैनिक भास्कर हिंदी: अच्छी सड़कें देश की समृध्दि व विकास का प्रतीक हैं : फडणवीस

November 23rd, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि रास्ता संस्कृति व सभ्यता को जोड़ता है। अच्छी सड़कें देश की समृध्दि व विकास का प्रतीक है। वे मानकापुर स्थित क्रीड़ा संकुल में इंडियन रोड कांग्रेस के 79 वें राष्ट्रीय अधिवेशन के उद्घाटन अवसर पर बोल रहे थे। अध्यक्षता केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितीन गडकरी ने की। मंच पर प्रमुखता से केंद्रीय गृह राज्यमंत्री हंसराज अहिर, राजस्व व लोक कर्म मंत्री चंद्रकांतदादा पाटील, पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, गोवा के लोक कर्म मंत्री सुधीर धवलीकर, कर्नाटक के लोक कर्म मंत्री के.एस. कृष्णारेड्डी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री फडणवीस ने अच्छी सड़कों का महत्व बताते हुए कहा कि नई तकनीक से खर्च व समय की बचत होने के साथ ही काम में पारदर्शिता आएगी। गुणवत्तापूर्ण सड़कें तैयार होगी। प्रदूषण भी कम होगा। स्मार्टनेस, सस्टेनिबिलीटी व सेफ्टी यहीं उद्देश्य है। अच्छी सड़कें समृध्दि व विकास का प्रतिक है। देश के विकास में इसका विशेष योगदान है। इसका लाभ हर क्षेत्र को मिलता है। रास्ता संस्कृति व सभ्यता को जोड़ता है। तकनीक के इस युग में इंजीनियरों की स्पर्धा मशीनों से है। 

सीएम ने कहा कि जो चीजे नागपुर में तय होती है, वह पूरे देश-दुनिया में जाती है। कई बार डीटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (DPR) काफी फ्लेक्जी होता है। DPR के समय ही कोड्स इंटीग्रेड होेने चाहिए। जितना डाटा सटीक होगा, उतना DPR अच्छा बनेगा। इंफ्रास्ट्रक्चर ग्रोथ खर्च में कटौती व अच्छी गुणवत्ता के साथ हो। उन्होंने कहा कि समृध्दि एक्सप्रेस वे अलग प्रकार का हाई वे है। विश्व का यह स्मार्टेस्ट रोड होगा। इससे नया इको सिस्टम तैयार होगा। देश में सड़क संबंधी जो बड़े प्रोजेक्ट जारी है, उसमें से 51 फीसदी काम अकेले महाराष्ट्र में चल रहे है।

इंडियन रोड़ कांग्रेस के सी. पी. जोशी, युदवीरसिंह मलिक ने भी विचार रखे। कार्यक्रम में विशेष रूप से महापौर नंदा जिचकार, जिला परिषद अध्यक्ष निशा सावरकर, विधायक प्रा. अनिल सोले, विधायक विकास कुंभारे, विभागीय आयुक्त डॉ. संजीवकुमार, जिलाधीश अश्विन मुदगल, पुलिस आयुक्त डॉ. भूषणकुमार उपाध्याय, मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर, एमएसआरडीसी के उपाध्यक्ष राधेश्याम मोपलवार, आईआरसी के उपाध्यक्ष नीरज चड्ढा, लोक कर्म विभाग के सचिव अजित सगणे, केंद्रीय परिवहन विभाग के सचिव बी. एन. सिंह, लोक कर्म विभाग नागपुर के मुख्य अभियंता उल्हास देबडवार, आयोजन समिति के सचिव रमेश होतवाणी, जनार्दन भानुसे आदि उपस्थित थे।

50 फीसदी दुर्घटना कम करनी है
केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितीन गडकरी ने कहा कि देश में सालाना 5 लाख दुर्घटनाएं होती है, जिसमें से डेढ लाख लोगों की मौत हो जाती है। अच्छी सड़कों व पुलों से 4 फीसदी दुर्घटनाएं कम हुई है, लेकिन यह नाकाफी है। 50 फीसदी दुर्घटनाएं कम करनी है। उन्होंने कहा कि बीएसएनएल अच्छी सड़कों की खुदाई कर देता है, मानों वह अच्छी सड़कांे पर गड्ढा करने का मुहूर्त ही देख रहा हो। उन्होंने कहा कि DPR व अच्छे ठेकेदारों का भी ग्रेडिंग होना चाहिए, ताकि निगेटीव अंक दिए जा सके। लागतमूल्य कम करने व गुणवत्ता पर जोर देते हुए कहा कि नई तकनीक से समय बचेगा और प्रदूषण में कमी आएगी।

उन्होंने नई-नई तकनीक पर काम करने का आह्वान अधिकारियों को करते हुए कहा कि कोई गलती हुई तो अधिकारी को दंडित नहीं किया जाएगा। फाईल दबाकर बैठने की प्रवृत्ती पर प्रहार करते हुए कहा कि कुछ लोगों को पत्नी से ज्यादा प्यार फाइल से होता है। इसकारण प्रोजेक्ट समय पर पूरे नहीं होते। समय पर निर्णय नहीं करना भी बीमारी है। नई तकनीक से स़़ड़क, ब्रीज के साथ बांध भी बनाए जा रहे है, जिससे पानी की समस्या खत्म की जा सकेगी।

इन्हें किया गया पुरस्कृत
इंडियन रोड कांग्रेस की आेर से लाइफटाईम अचिवमेंट अवार्ड व पीडब्ल्यूडी मेडल अवार्ड से इंजीनियरों को पुरस्कृत किया गया। फर्स्ट लाइफटाईम अचिवमेंट अवार्ड ए. बी. नारायणन, सेकंड लाइफटाईम अचिवमेंट अवार्ड बी. बी. पांडे, नेहरू अवार्ड मधु येरणपल्ली, पीडब्ल्यूडी मेडल डॉ. वी. जी. हवंगी, डॉ. सतीश चंद्र, एम. किशोरकुमार व एस. के. श्रीवास्तव को दिया गया। मुख्यमंत्री फडणवीस व केंद्रीय मंत्री गडकरी के हाथों इन्हें पुरस्कृत किया गया। गडकरी के हाथों इंडियन रोड कांग्रेस के डाक्यूमेंट का विमोचन हुआ।

केंद्र ने 1 लाख 6 हजार करोड़ दिए
राजस्व व लोक कर्म मंत्री चंद्रकांतदादा पाटील ने कहा कि पहले 52 हजार किमी के रास्ते थे, अब 2 लाख 76 हजार किमी के रास्ते है। पहले राज्य का इस विभाग का 1700 करोड़ का बजट था, जो अब बढ़कर 6 हजार करोड़ का हुआ है। गडकरी ने 4 साल में सड़क व ब्रीजों के लिए राज्य को 1 लाख 6 हजार करोड़ की निधी उपलब्ध कराई है।