दैनिक भास्कर हिंदी: कोरोना टीकाकरण से पहले केंद्र सरकार से स्पष्टीकरण चाहती है महाराष्ट्र सरकार

January 5th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि राज्य में बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान शुरू करने से पहले वह केंद्र सरकार से उन दो कोविड-19 टीकों पर स्पष्टीकरण चाहती है जिनके आपात इस्तेमाल को मंजूरी दी गई है। मंगलवार को टोपे ने कोविड-19 टीके की उपलब्धता पर कहा कि केन्द्र अगले 10 दिन में राज्य सरकार को बड़े पैमाने पर खुराक की उपलब्धता के बारे में बताएगी। 

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में कोल्डस्टोरेज केन्द्रों और आपूर्ति श्रृंखला की व्यवस्था की गई है और राज्य बड़े स्तर पर टीकाकरण अभियान चलाने को तैयार है। टोपे ने कहा कि स्वीकृत टीकों के बारे में हम केन्द्र से कुछ स्पष्टीकरण चाहते हैं, क्योंकि उन्हें आपात स्थिति का हवाला देते हुए उपयोग के लिए मंजूरी दे दी गई है। सात जनवरी को केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री के साथ राष्ट्रीय वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान टीकों के बारे में महाराष्ट्र अपनी चिंताओं को उठाएगा। गौरतलब है कि भारत के औषधि नियामक ने ‘सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया’ द्वारा निर्मित ‘ऑक्सफोर्ड’ के कोविड-19 टीके ‘कोविशील्ड’ और ‘भारत बायोटेक’ के स्वदेश विकसित टीके ‘कोवैक्सीन’ के आपात स्थिति में इस्तेमाल को रविवार को मंजूरी दे दी थी। इससे व्यापक टीकाकरण अभियान का रास्ता साफ हो गया है।