मामला दर्ज: ओला कैब चालक की पिटाई करने वाला गिरफ्तार

January 13th, 2022

डिजिटल डेस्क, नागपुर। ओला कैब चालक की पिटाई कर उससे नकदी दो हजार रुपए छीनने व जान से मारने की धमकी देने वाले बदमाश को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।  आरोपी वैभव ओमप्रकाश राठौड (26) है। इस मामले में उसकी मां और पत्नी को भी पुलिस ने आरोपी बनाया है। घटना के समय यह दोनों महिलाएं भी कैब में सवार थीं। आरोपी वैभव राठौड उर्फ आर वी राठौड को अजनी पुलिस ने न्यायालय में पेश किया। न्यायालय ने उसे 16 जनवरी तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है। 

मैप से चलने की बात को लेकर हुआ विवाद 
पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्लाॅट नं. 3, उत्थान नगर, गोरेवाड़ा रोड, मानकापुर नागपुर निवासी करण केशवराव पुनकर (30) ओला कैब चालक है। उसने आरोपी वैभव राठोड के खिलाफ अजनी थाने में शिकायत दर्ज कराई है। करण ने पुलिस को बताया कि गत 9 जनवरी को रात करीब 11.15 बजे उसकी ओला कैब को महल इलाके से आॅनलाइन बुकिंग की गई। लीना नामक महिला ने बुकिंग की थी। आयचित मंदिर के पास से उसने वैभव राठौड, उसकी मां और पत्नी को पिकअप किया। उन्हें गंतव्य स्थान पर छोड़ने जाने के लिए गूगल मैप के जरिए चलने लगा।  

वैभव उसे रास्ता बताने लगा तो उसने मैप के जरिए चलने की बात की। इस बात पर आरोपी वैभव ने करण को अजनी क्षेत्र में न्यू महालक्ष्मी टाइल्स के पास शताब्दी चौक  से नरेंद्र नगर चौक के बीच रोका। आरोपी  वैभव राठौड ने करण को चाकू दिखाकर उससे गाली-गलौज कर उसका मोबाइल फोन तोड़ दिया और जेब से दो हजार रुपए नकदी छीन ली। दोबारा उसकी कैब में बैठकर उसे मनीषनगर रोड से वैशालीनगर  झोपड़पट्टी की ओर ले गए। वैभव उसकी पत्नी और मां कैब से उतरकर चले गए। आरोपी ने कार से उतरने के बाद उसका मोबाइल वापस किया और धमकाया कि पुलिस के पास शिकायत की तो जान से हाथ धो बैठेगा। अंत में करण ने अजनी थाने में घटना की शिकायत की। पुलिस ने ओला कंपनी से कार बुकिंग करने वाली महिला का नंबर हासिल कर आरोपी आर.वी राठौड व उसकी मां व पत्नी के खिलाफ मामला दर्ज किया।  आरोपी वैभव उर्फ आर. वी राठौड को जाल बिछाकर मेडिकल चौक से करीब 2 बजे दबोच लिया। इस मामले में उसकी मां और पत्नी को हिरासत में लिया गया। 

कई आपराधिक मामले दर्ज 
आरोपी वैभव राठौड बेहद गुस्सैल स्वभाव का है। उसके खिलाफ हत्या के प्रयास, बंदूक रखने व अन्य कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। आरोपी कोई भी घटना को अंजाम देकर फरार होने में माहिर है। इस बार वह पुलिस के हत्थे चढ़ गया।