comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

मनीष श्रीवास हत्याकांड : सफेलकर की पुलिस रिमांड बढ़ी

मनीष श्रीवास हत्याकांड : सफेलकर की पुलिस रिमांड बढ़ी

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कामठी के बदमाश रंजीत सफेलकर के पुलिस रिमांड की समयावधि समाप्त हुई। उसे न्यायालय के समक्ष दोबारा पेश किया गया। आरोपी रंजीत सफेलकर को न्यायालय ने 12 अप्रैल तक दोबारा पुलिस िरमांड पर भेजने का आदेश दिया है। मनीष श्रीवास हत्याकांड में शामिल रंजीत सफेलकर के साथी भरत हाटे, शरद उर्फ कालू हाटे और हेमंत गोरखा का पीसीआर खत्म होने पर तीनों को सेंट्रल जेल भेज दिया गया। रंजीत सफेलकर की गिरफ्तारी से कई लोग खुश हैं। उधर के राज्य के बहुचर्चित एकनाथ निमगडे हत्याकांड का मास्टर माइंड रंजीत सफेलकर ने नागपुर और कामठी में कई लोगों की साथियों के साथ मिलकर जमीन और प्लाॅट पर कब्जा जमा रखा है। उसकी दहशत के कारण लोग खामोश बैठे थे। रंजीत की गिरफ्तारी के बाद अब पीड़ित नागरिक पुलिस के पास शिकायतें लेकर पहुंचने लगे हैं।

पांच करोड़ का मामला ठंडे बस्ते में : निमगड़ेे हत्याकांड को अंजाम देने के लिए रंजीत सफेलकर ने 5 करोड़ रुपए की सुपारी ली थी। सुपारी देने वाला कौन है। इसका रहस्य अभी तक उजागर नहीं हो पाया है। चर्चा है कि कुछ राजनीतिक लोगों के कारण  निमगडे हत्याकांड ठंडे बस्ते में डाल दिया गया था, ताकि इसका राज हमेशा के लिए दफन होकर रह जाए। शहर के पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार ने निमगडे हत्याकांड के आरोप में रंजीत सफेलकर सहित 14 आरोपियों को धरदबोचा। फिलहाल मनीष श्रीवास हत्याकांड में रंजीत सफेलकर पुलिस रिमांड पर है। रंजीत के साथी भरत, कालू और हेमंत गोरखा को सेंट्रल जेल भेज दिया गया है।

यह था मामला : 4 मार्च 2012 को एक युवती काे लालच देकर आरोपी रंजीत सफेलकर, शरद ऊर्फ कालू हाटे, भरत हाटे और उसके साथियों ने मनीष श्रीवास का अपहरण कर उसे  पवनगांव (धारगांव) में एक कमरे में ले जाकर तलवार से गला रेतकर हत्या कर दी। बाद में उसके शव को कामठी के रंजीत सफेलकर के मकान में ले जाकर उसके टुकड़े-टुकड़े करके उसे कुरई घाट के जंगल में ले जाकर फेंक दिया। पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ सबूत जुटा रही है। पुलिस ने आरोपियों के मोबाइल फोन जब्त किया है। आरोपियों के वाट्सएप चैटिंग व अन्य जानकारी जुटाने का कार्य किया जा रहा है। अपराध शाखा पुलिस विभाग के उपायुक्त गजानन शिवलिंग राजमाने के मार्गदर्शन में कार्य किया जा रहा है। 

कमेंट करें
Aws4H