comScore

मनपा आयुक्त मुंढे की दो टूक, मैं कोई स्टंट नहीं, एक्शन करता हूं

मनपा आयुक्त मुंढे की दो टूक, मैं कोई स्टंट नहीं, एक्शन करता हूं

डिजिटल डेस्क,नागपुर। मनपा में आयुक्त तुकाराम मुंढे को लेकर जनप्रतिनिधियों का विरोध जारी है। इस बीच आयुक्त ने सोशल मीडिया पर विरोधियों को वास्तविकता जानने की हिदायत दी है। खुद पर लग रहे आरोपों पर उन्होंने कहा है- मैं कोई स्टंट नहीं, एक्शन करता हूं। स्वयं परफेक्ट होने का दावा नहीं कर सकता, लेकिन परफेक्ट होने का प्रयास अवश्य करता हूं। आयुक्त के इस वक्तव्य पर कांग्रेस विधायक विकास ठाकरे ने तंज कसते हुए कहा है- राज्य में कोई प्रशासनिक अधिकारी इस तरह का प्रचार करते नहीं दिख रहा है। यही सब ठीक है, तो विधानसभा में निवेदन करूंगा कि मुंढे पैटर्न की नियमावली बना दें। उधर पालकमंत्री डॉ. नितीन राऊत ने इस मामले से स्वयं को अलग कर रखा है। आयुक्त के मामले में किसी भी सवाल पर उन्होंने चर्चा करने के बजाय नो कमेंट्स कहा है।

सभी निर्णय स्वयं ले रहे
गौरतलब है कि कोरोना संकट की उपाय योजना के मामले में आयुक्त पर आरोप लग रहे हैं कि वे किसी भी जनप्रतिनिधि, पदाधिकारी या अन्य प्रशासनिक अधिकारी से चर्चा तक नहीं कर रहे हैं। सारे निर्णय स्वयं ले रहे हैं। इससे विविध परेशानियां सामने आ रही हैं। नागरिकों में असंतोष है। अव्यवस्था पर सवाल उठाने वालों के विरोध में पुलिस स्टेशन में प्रकरण दर्ज कराए जा रहे हैं। सारे आरोपों पर आयुक्त ने फेसबुक लाइव के माध्यम से जवाब दिया है। 

मैं अपने काम पर ध्यान देता हूं
मैं दावा नहीं कर रहा हूं कि मनपा की ओर से जो कुछ अच्छा हो रहा है, उसका श्रेय केवल मुझे दिया जाए, लेकिन केंद्र सरकार की स्वास्थ्य सेवा संबंधी संस्था के अलावा अन्य संस्थाओं ने नागपुर मनपा के कोरोना से संघर्ष के प्रयासों को सराहा है। मेरे ऊपर पब्लिसिटी स्टंट का आरोप लगाया जा रहा है, लेकिन मैं केवल काम पर ध्यान देता हूं। मनपा आयुक्त नियुक्त होने के बाद मैंने संवाद माध्यम से चर्चा तक नहीं की। कोरोना संकट में नागरिकों से संवाद व अफवाहों से बचने का आह्वान करने के लिए 3 बार फेसबुक लाइव आया। हुकुमशाह होने का आरोप लगाने वालों से भी पूछना चाहता हूं कि हुकुमशाह का मतलब क्या होता है। मैंने नियमों का उल्लंघन नहीं किया है। 
-तुकाराम मुंढे, आयुक्त मनपा, नागपुर

स्वयं का गुणगान करते हैं
आयुक्त को यह बताने की आवश्यकता नहीं है कि विधायक उस विधानमंडल का सदस्य है, जहां कानून बनते हैं। कानून का पालन कराने की जिम्मेदारी सभी की है। आयुक्त सोशल मीडिया पर स्वयं का गुणगान किस तरह करते हैं, यह भी विधानसभा में बता दिया जाएगा। 
-विकास ठाकरे, विधायक कांग्रेस 

त्रुटियों को उजागर किया जा रहा है
आयुक्त का विरोध नहीं किया जा रहा है, लेकिन उनके कार्यों की त्रुटियों को उजागर किया जा रहा है। जनप्रतिनिधियों के विरोध में प्रकरण दर्ज करवाना ठीक नहीं है। जिले के मंत्रियों से चर्चा हुई है, जल्द ही मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को आयुक्त की कार्यशैली के बारे में पत्र दिया जाएगा। 
-तानाजी वनवे, नेता प्रतिपक्ष, मनपा


 

कमेंट करें
feHhl