comScore

लॉकडाउन को लेकर महापौर और मनपा आयुक्त आमने-सामने

लॉकडाउन को लेकर महापौर और मनपा आयुक्त आमने-सामने

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कोरोना संक्रमण रोकने के लिए होने वाले उपायों को लेकर आयुक्त और महापौर फिर आमने-सामने आ गए हैं। एक सख्ती के मूड में है तो दूसरे का जागरूकता पर जोर है। इस बीच आयुक्त तुकाराम मुंढे ने फेसबुक लाइव के माध्यम से नागरिकों के साथ संवाद साधकर शासन के दिशा-निर्देशों का पालन करने का आह्वान किया। आयुक्त ने कहा कि बार-बार आह्वान करने पर भी नागरिक शासन के दिशा-निर्देशों का पालन नहीं कर रहे हैं। नागरिकों को संभलने के लिए 3-4 दिन का समय दिया है। इसके बाद भी सुधार नहीं आने पर कर्फ्यू के साथ लॉकडाउन करने के संकेत दिए। 

बाजारों में लापरवाही 
फेसबुक लाइव के माध्यम से मनपा आयुक्त तुकाराम मुंढे ने कहा- नागरिकों को अपनी अादत बदलनी होगी। ऐसा नहीं हुआ तो मजबूरी में कर्फ्यू के साथ लॉकडाउन करने के संकेत दिए। मुंढे ने कहा कि प्रशासन अपना काम कर रहा है। नागरिकों को भी अपनी नैतिक जिम्मेदारी समझनी होगी। कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का पालन करने का बार-बार आह्वान करने पर भी बाजारों में सावधानी नहीं बरती जा रही है। अपनी सुरक्षा अपने हाथ है। इसी से कोरोना को मात दी जा सकती है। 

सार्वजनिक उत्सव टालना बेहतर
मुंढे ने कहा अगस्त महीने में बकरीद, रक्षा बंधन, गणेशोत्सव है। कोरोना के संकट से निपटने के लिए सार्वजनिक उत्सव टालना बेहतर होगा। भीड़भाड़ में संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। मुंबई में मंडलों ने खुद सामने आकर दही हांडी उत्सव रद्द करने का निर्णय लिया है। नागपुर में भी उसका अनुकरण होना चाहिए। 

तीन बार लॉकडाउन के बाद भी बढ़ रहा संक्रमण
महापौर संदीप जोशी ने कहा कि शहर में बढ़ता कोरोना संक्रमण चिंता का विषय है, परंतु लॉकडाउन इसे नियंत्रित करने का विकल्प नहीं है। लॉकडाउन करने पर नागरिकों की आर्थिक स्थिति पर आघात होगा। इसलिए लॉकडाउन की घोषणा करने से पहले गंभीरता से सोचना चाहिए।  महापौर ने कहा कि मनपा आयुक्त द्वारा लॉकडाउन अथवा कर्फ्यू लगाने की खबरें प्रकाशित हो रही हैं। 3 बार लॉकडाउन करने के बाद भी संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ रहा है। इसका अर्थ लॉकडाउन से संक्रमण कम होगा, यह कहना शत-प्रतिशत सही नहीं है। इसे नियंत्रित करने के लिए संगठित रूप से जनता के बीच जाना होगा। कठोर नियम, कानून का अमल करना जरूरी है। 31 जुलाई तक सभी विधायक तथा जनप्रतिनिधि सड़कों पर उतरकर जनजागरण करेंगे। इसके बाद भी स्थिति नियंत्रण में नहीं आने पर 1 अगस्त के बाद लॉकडाउन पर विचार किया जाएगा। फिलहाल किसी भी तरह का सख्त कदम उठाना ठीक नहीं होगा।

जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ बैठक  
लॉकडाउन पर चर्चा के लिए महापौर संदीप जोशी की पहल पर  जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों की बैठक बुलाई गई है। बैठक में शहर के सभी सांसद, विधायक, मनपा पदाधिकारी, पुलिस आयुक्त, मनपा आयुक्त उपस्थित रहेंगे। मनपा मुख्यालय के श्री छत्रपति शिवाजी महाराज प्रशासकीय इमारत सभागृह में यह बैठक होगी। 

कमेंट करें
far9T